Ayodhya: दीपोत्सव का बेसब्री से इंतजार करता है यह समाज, इनके बिना अधूरा है दीप प्रज्वलन

0
26


हाइलाइट्स

राम की पैड़ी पर इस बार दीप प्रज्वलन के काम में अवध विश्वविद्यालय के 18 हजार वालंटियर्स लगेंगे.
हालांकि इस साल नया कीर्तिमान बनाने के लिए 14 लाख 28 हजार दीप जलाने का लक्ष्य रखा गया है.
नोडल अधिकारी अजय प्रताप के मुताबिक, अपने स्तर पर 16 लाख दीप प्रज्वलन का टारगेट रखा है.

रिपोर्ट: सर्वेश श्रीवास्तव

अयोध्या. रामनगरी में एक बार फिर त्रेता युग की अयोध्या दिखाई देगी. इस बार दीपोत्सव के दिन धर्मनगरी दुलहन की तरह सज-संवर कर तैयार होगी. दीपोत्सव में इस बार करीब 16 लाख दीपक जलाए जाएंगे. साथ ही अपने बनाए हुए रिकॉर्ड को एक बार फिर तोड़ने का प्रयास किया जाएगा.

राम की पैड़ी पर 16 लाख दीप प्रज्वलन के काम में अवध विश्वविद्यालय के 18 हजार वालंटियर्स लगेंगे. दीपोत्सव के समय लेजर लाइट शो और ग्रीन आतिशबाजी का भव्य नजारा पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र होगा. प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का यह छठा कार्यकाल है तो वहीं दूसरे कार्यकाल का यह पहला दीपोत्सव है. इसलिए इसे और भव्य और दिव्य बनाने की तैयारियां युद्धस्तर पर चल रही हैं. वहीं शासन-प्रशासन की ओर से 16 लाख दीप तैयार करने के लिए अलग-अलग कुम्हारों को ऑर्डर भी दे दिए गए हैं.

18 हजार लगाए जाएंगे वालंटियर्स

NEWS18 LOCAL से बात करते हुए दीपोत्सव के नोडल अधिकारी अजय प्रताप बताते हैं कि दीपोत्सव में इस साल नया कीर्तिमान बनाने के लिए 14 लाख 28 हजार दीप जलाने का लक्ष्य रखा गया है. लेकिन हमलोग अपने स्तर पर 16 लाख मानकर चल रहे हैं. ऐसे में हमें को 16 लाख दिए जलाने हैं. पिछले वर्ष 11 हजार वालंटियर्स थे, तो वहीं इस साल दीपों की संख्या बढ़ गई है. लिहाजा इस बार 18 हजार वालंटियर्स लगाए जाएंगे.

ऑर्डर मिलने पर खिले कुम्हारों के चेहरे

रामनगरी में होने वाले दीपोत्सव को लेकर कुम्हारों के चेहरे खुशी से दमक रहे हैं. इसका कारण है कि दीपक बनाने का ऑर्डर मिलना. कुम्हार संदीप प्रजापति बताते हैं कि इस बार हमलोगों को 10 हजार दीए बनाने का ऑर्डर मिला है. शुभम प्रजापति बताते हैं कि हमें 20 हजार दीपक बनाने का ऑर्डर मिला है. दरअसल कुम्हारों का कहना है कि 16 लाख दीपक बनाने हैं, ऐसे में थोड़ा-थोड़ा करके हमें ऑर्डर मिल रहे हैं. आगे भी ऑर्डर मिलने की संभावना है, जिसके लिए हमलोग तैयार हैं.

Tags: Ayodhya Deepotsav, Diwali, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here