Bhaskar learned the cause of death from experts, 49 deaths in the third wave in the state, 79% of all those with serious illness, above 60 years | भास्कर ने विशेषज्ञों से जानी मौत की वजह, राज्य में तीसरी लहर में 49 मौतें, सभी गंभीर बीमारी वाले, 60 साल से ऊपर के 79%

0
10


  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Bhaskar Learned The Cause Of Death From Experts, 49 Deaths In The Third Wave In The State, 79% Of All Those With Serious Illness, Above 60 Years

रांची7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अब मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही मौत के आंकड़े भी बढ़ने लगे हैं
  • पहली माैत 14 दिसंबर, दूसरी 29 दिसंबर, फिर राेजाना 1-2 माैतें हाे रही थीं, 6 जनवरी से संख्या बढ़ने लगीं, 7 और 12 जनवरी को 8-8 मौतें हुईं

काेराेना की तीसरी लहर में झारखंड में मरीजाें की संख्या में बेतहाशा बढ़ाेतरी हाे रही है। रोजाना औसतन 4500 से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। अब माैताें की संख्या भी बढ़ने लगी है। तीसरी लहर में पहली माैत 14 दिसंबर काे हुई थी। फिर सिलसिला थम गया। लेकिन 29 दिसंबर काे फिर माैतें हुईं और अब राेज मौतें हाेने लगी हैं। 29 दिसंबर से अब तक राज्य में 49 लाेगाें की माैत हाे चुकी हैं।

पूर्वी सिंहभूम में सबसे ज्यादा 23 लाेगाें की काेराेना से जान गई है ताे रांची में 7 लाेगाें की। इनमें 79.6 प्रतिशत मृतक 60 साल से ऊपर के थे। भास्कर ने काेविड के इलाज में लगे एक्सपर्ट्स के जरिए सभी माैताें के कारणाें का विश्लेेषण कराया ताे एक भी ऐसे लाेग नहीं मिले, जिनकी सिर्फ काेराेना से माैत हुई हाे। मरने वाले सभी काेमाॅर्बिडिटी वाले थे, यानी ऐसे लाेग जिन्हें पहले से ही दूसरी गंभीर बीमारियां थीं और उन्हें काेविड हाे गया। मृतकाें में कई ऐसे लाेग भी थे, जिन्हाेंने काेराेना टीके की एक या दाे डाेज ले ली थी। लेकिन अब लापरवाही बरतने का समय नहीं है, इसलिए अभी से सतर्क रहें।

ऐसे बढ़ रहे मरीज

  • 4 जनवरी 2681
  • 5 जनवरी 3553
  • 6 जनवरी 3704
  • 7 जनवरी 3825
  • 8 जनवरी 5081
  • 9 जनवरी 3441
  • 10 जनवरी 4452
  • 11 जनवरी 4719
  • 12 जनवरी 4753
  • 13 जनवरी 4000
  • रोज औसतन 4500 मरीज मिल रहे हैं। जांच घटती है तो मरीजों की संख्या घट जाती है।

66,943 सैंपलाें में 3749 पाॅजिटिव, तीन की माैतें राहत की बात : 24 घंटे में राज्य में 2807 ठीक भी हुए

झारखंड में शुक्रवार काे 66943 सैंपलाें की जांच हुई। इनमें 3749 पाॅजिटिव मरीज मिले। सबसे ज्यादा 1355 संक्रमित रांची में ताे 472 मरीजाें की पूर्वी सिंहभूम में पुष्टि हुई। इस दाैरान तीन लाेगाें की माैत भी हुई। मरने वालाें में एक बाेकाराे और दाे पूर्वी सिंहभूम के थे।

इधर, राहत की बात है कि 24 घंटे में 2807 लाेग स्वस्थ भी हुए। यह एक दिन में मिले मरीजाें का 74.87 प्रतिशत है। रांची में सबसे ज्यादा 1001 ताे पूर्वी सिंहभूम में 271 लाेगाें ने काेराना काे हराया। वहीं बाेकाराे के 196, देवघर के 173, रामगढ़-सिमडेगा में 153-153, धनबाद के 138 और पश्चिमी सिंहभूम के 114 लाेग ठीक हुए।​​​​​​​

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here