BHU: 6 साल बाद फिर साइबर लाइब्रेरी को पूरी रात खोलने का फैसला, छात्रों पर पोर्न देखने के आरोप में हुई थी बंद

0
77


वाराणसी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के सेंट्रल लाइब्रेरी स्थित सयाजी गायकवाड़ साइबर लाइब्रेरी (Sayaji Gaikwad Cyber ​​Library) को अब 21 घंटे खोलने की अनुमति दे दी गई है. इसकी पुष्टि BHU के आधिकारिक टि्वटर हैंडल के जरिए कर दी गई है. IITs और JNU के बाद अब BHU में भी छात्रों को पूरी रात पढ़ाई करने का मौका मिलना शुरू हो गया है. इसके साथ ही छात्र अब सुबह 8 बजे से अगले दिन सुबह पांच बजे तक लाइब्रेरी में समय बिता सकेंगे. इस फैसले के बाद छात्रों में काफी खुशी है.

गौरतलब है कि BHU में साल 2012 में सेंट्रल लाइब्रेरी को 24 घंटे खोलने की व्यवस्था बनाई गई थी. इसे बाद में कुलपति प्रो. जीसी त्रिपाठी ने प्रतिबंधित कर दिया था. आरोप था कि यहां रात में बच्चे पाेर्न देखते हैं. इसके बाद सेंट्रल लाइब्रेरी में 24 घंटे तक स्टडी की मांग को लेकर 2016 में भूख हड़ताल शुरू की गई. इसमें 9 छात्रों को विश्वविद्यालय से निष्कासित कर जेल भेज दिया गया था.

6 साल बाद आया बड़ा फैसला
अब छह साल बाद कुलपति पद्मश्री प्रो. सुधीर कुमार जैन ने लाइब्रेरी को 21 घंटे तक खोलने का फैसला किया है. छात्र-छात्राओं ने इस पर प्रसन्नता व्यक्त की है. सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर कर आदेश का स्वागत किया गया.

पूर्व छात्र डॉ. विकास सिंह ने बताया कि छह साल पहले यह कहकर रोक लगा दी गई थी कि यहां पर रात भर छात्र पोर्न फिल्में देखते हैं. कॉपर वायर और एसी के सामान चुरा ले जाते हैं. इन्हीं आरोपों के बाद सेंट्रल लाइब्रेरी रात के समय नहीं खोलने का निर्णय लिया गया था. इस पर छात्रों ने विरोध किया था.

आपके शहर से (वाराणसी)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: BHU, UP news, Varanasi news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here