Bihar live blog breaking news governor fagu chauhan summons to delhi panchayat chunav 2021 24 november latest news updates nodmk3

0
16


हाइलाइट्स

Bihar LIVE: बिहार के राज्‍यपाल फागू चौहान को अचानक से दिल्‍ली तलब किया गया है. रिपोर्ट की मानें तो प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने उन्‍हें दिल्‍ली बुलाया है. राज्‍यपाल फागू चौहान बुधवार दोपहर बाद दिल्‍ली के लिए रवाना हो सकते हैं. इस दौरान वह शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से भी मुलाकात करेंगे. फागू चौहान को अचानक से दिल्‍ली तलब किए जाने की सूचना के बाद से ही बिहार के राजनीतिक गलियारों में कयासबाजी का दौर शुरू हो गया है. बता दें कि राज्यपाल पर कई गंभीर आरोप उच्च पद पर बैठे लोगों ने लगाया है. उनके नाम पर न केवल वसूली की बात सामने आई है, बल्कि उनपर भ्रष्टाचारी को संरक्षण देने का भी आरोप लगा है. दिलचस्‍प है कि मंगलवार को ही कई आरोपों से घिरे मिथिला यूनिवर्सिटी के VC को राज्यपाल ने सर्वश्रेष्‍ठ कुलपति के तौर पर सम्मानित किया.

दरअसल, मौलाना मजहरूल हक अरबी फारसी विश्‍वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर कुद्दुस ने राज्यपाल और सीएम नीतीश को पत्र लिखकर विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार की पोल खोली है. उन्होंने एक नहीं कई विश्वविद्यालयों में फर्जी भुगतान करने का मामला उजागर किया है. उन्होंने पत्र में साफ शब्दों में कहा है कि उनपर फर्जी बिल पास करने का दबाव बनानेवाला खुद को राजभवन का करीबी बता रहा है. इतना ही नहीं प्रो. कुद्दुस ने अपने पत्र में उत्तर पुस्तिका खरीद के टेंडर में कार्यकारी-प्रभारी कुलपति प्रो. सुरेंद्र प्रताप की भूमिका की जांच की भी मांग की है. राज्यपाल फागू चौहान ने उन्‍हें सर्वश्रेष्‍ठ कुलपति के रूप में सम्मानित किया है.

बिहार के इन 5 शहरों में नहीं लगेगा ट्रैफिक जाम, मुख्‍य चौराहों पर लगेंगे CCTV कैमरे

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के साथ असहजता
बताया जाता है कि राज्यपाल फागु चौहान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच रिश्ते सहज नहीं हैं. इसके पीछे कारण हैं विभिन्न विश्वविद्यालय में नियुक्त कुलपतियों पर कथित वित्तीय अनियमितता का आरोप. एक कार्यक्रम में राज्‍यपाल फागु चौहान ने जहां एक आरोपी कुलपति को सबसे अच्छे कुलपति का पुरस्कार दिया, वहीं राज्य के शिक्षा मंत्री और विभाग के वरिष्ठ अधिकारी इस कार्यक्रम से दूर रहे. मंगलवार को पटना के राजभवन में आयोजित कार्यक्रम में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति डॉक्टर एसपी सिंह को सबसे अच्छे कुलपति का पुरस्कार दिया गया. एसपी सिंह पर गंभीर आरोप हैं.

90 लाख रुपये की नगदी बरामद
गौरतलब है कि इससे पूर्व मगध विश्वविद्यालय के कुलपति के घर पर छापेमारी में 90 लाख रुपये की नगदी बरामद हुई थी. इस बीच राज्य सरकार ने कहा था कि चाहे जांच हो या समारोह से अलग रहने का फ़ैसला, यह सब सोच समझ कर लिया गया है. राज्‍य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने साफ कहा कि भ्रष्टाचार पर मुख्यमंत्री की ज़ीरो टॉलरेंस की नीति रही है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here