Budget 2022 23 Expected relief in budget for special economic zone – Business News India

0
28


केंद्र सरकार देश में कारोबारी गतिविधियों को बढ़ावा देने के मकसद से बजट में विशेष आर्थिक क्षेत्र यानि एसईजेड को लेकर नए ऐलान करने पर विचार कर रही है। हिंदुस्तान को सूत्रों के जरिए मिली जानकारी के मुताबिक इन कारोबारियों को घरेलू बाजारों में माल सप्लाई करने पर लगने वाले आयात शुल्क में छूट मिल सकती है। साथ ही कंपनियों को भारतीय मुद्रा में पेमेंट लेने की भी इजाजत दी जा सकती है।

दरअसल सरकार चाहती है कि देश में एक ऐसा कारोबारी इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जाए जिसमें आयात और निर्यात के मोर्चे पर संतुलन बना रहे। इसमें एसईजेड में ऐसे तमाम मोर्चे हैं जहां पर कारोबारियों की लंबे समय से सुधार की मांग की जाती रही है। इस बाजट में दिए गए प्रस्तावों पर सरकार गंभीरता से मंथन में जुटी है।

जानकारी के मुताबिक इस बजट में सरकार इन कारोबारियों को भारतीय घरेलू बाजार में उत्पाद बेचने की छूट देगी। पहले जो भी कंपनियां घरेलू बाजार में सामान बेचती थी उन्हें अतिरिक्त कस्टम ड्यूटी चुकानी होती थी। लेकिन बजट में उन्हें इस ड्यूटी को चुकाने पर छूट दी जा सकती है।

यही नहीं इन कंपनियों को विदेशी मुद्रा के बजाए अब भारतीय मुद्रा में ही पेमेंट लेने की भी छूट मिल जाएगी जिससे उन्हें अपनी कारोबारी गतिविधियां चलाने में आसानी हो सकेगी। इसके अलावा कंपनियों को निर्यात उत्पादों पर शुल्क और करों की छूट से जुड़ी रॉडटेप जैसी स्कीमों का भी फायदा दिए जाने पर भी विचार हो रहा है।

वित्त मंत्रालय बजट में मौजूदा एसईजेड एक्ट 2005 में संशोधन का ऐलान कर सकता है। इसके तहत इन कारोबारियों को इन्फ्रास्ट्रक्चर स्टेट्स देने और नियमों की सख्ती में ढील देना संभव हो सकता है। एक बार इन्फ्रास्ट्रकर स्टेट्स हासिल होने से एसईजेड से जुड़े कारोबारियों को सस्ते दरों पर कर्ज मिलेगा और कारोबारी सुगमता जैसी सहूलियतें भी हासिल होने लगेंगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here