By Election: मैनपुरी और रामपुर में 5 दिसंबर को उपचुनाव, वोटों की गिनती 8 दिसबंर को

0
14


लखनऊ. सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन और हेट स्पीच मामले में आजम खान को हुई सजा के बाद से खाली हुई उत्तर प्रदेश की मैनपुरी लोकसभा और रामपुर विधनसभा की सीट पर उपचुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है. चुनाव आयोग ने नोटिफिकेशन जारी करते हुए इन दोनों सीटों पर आगामी 5 दिसंबर को उपचुनाव की वोटिंग और 8 दिसंबर को मतगणना कराने की घोषणा कर दी है.

दरअसल, एक ओर जहां 2019 के लोकसभा चुनाव में मैनपुरी लोकसभी सीट से चुने गये सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का बीते 10 सिंतबर को निधन हो जाने से मैनपुरी लोकसभा सीट रिक्त हो गई थी तो वहीं 27 सितंबर को हेट स्पीच मामले में सपा के वरिष्ठ नेता और रामपुर से विधायक आजम खान को कोर्ट से 3 साल की सजा हो जाने से रामपुर विधानसभा की भी सीट खाली हो गई थी. इसके चलते चुनाव आयोग ने आज शनिवार को मैनपुरी लोकसभा सीट और रामपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव की तिथि का ऐलान कर दिया है.

चुनाव आयोग द्वारा मैनपुरी लोकसभा सीट और रामपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिये जारी किये गये नोटिफिकेशन के मुताबिक आगामी 10 नवबंर से 17 नवंबर तक नामांकन किया जायेगा. 18 नवबंर को नामांकन पत्र की जांच की जायेगी. 21 नवबंर तक नाम वापसी की जा सकेगी. और फिर 5 दिसंबर को मतदान के बाद 8 दिसंबर को मतगणना की जायेगी. ऐसे में चुनाव आयोग द्वारा मैनपुरी और रामपुर में उपचुनाव की तिथियो के ऐलान के बाद सपा की धडकनें तेज हो गई है क्योंकि सपा का गढ मानी जाने वाली इन दोनों सीटों को जीतना सपा के लिये अब किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है तो वहीं दूसरी ओर भाजपा सपा के गढ़ की इन दोनों सीटों पर कमल खिलाने के लिये इसे एक बड़े अवसर के रूप में देखते हुए नजर आ रही है.

मैनपुरी से जहां सपा यादव परिवार के सदस्यो में शामिल डिंपल, धर्मेन्द्र या फिर तेज प्रताप यादव में से किसी एक को अपनी प्रत्याशी बनायेगी तो वहीं रामपुर से भी इस बार आजम खान की बहू भी चुनाव लड़ सकती हैं. ऐसे में भाजपा भी अब जल्द ही इन सीटो पर सपा के उम्मीदवारों को जोरदार टक्कर देने वाले अपने प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर सकती है.

Tags: By election, UP news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here