Case on kangna and pm modi kangna made joke of non violence and she is anti nationalist

0
25


कामिर क़ुरैशी

आगरा. बीते दिनों अभिनेत्री कंगना रनौत आज़ादी को लेकर अपने बयान के कारण सुर्खियों में आ गई थी. कंगना के बयान के बाद कई लोगों ने उनके बड़बोलेपन का विरोध किया था. अब आगरा में भी कंगना के लिए विरोध सामने आया है. आगरा के एक अधिवक्ता ने भारत देश को 1947 में मिली आजादी को भीख बताने के आरोप में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ परिवाद पत्र दाखिल किया है. अधिवक्ता ने आजादी को भीख बताने को लेकर राष्ट्रद्रोह के आरोप में वाद दाखिल किया है हालांकि इस मामले में सीजेएम ने मामले की सुनवाई के लिए 25 नवंबर की तारीख नियत की है.

देश में फैरा रही हैं अराजकता का माहौल
आगरा की न्यू लॉयर्स कॉलोनी निवासी अधिवक्ता रमाशंकर शर्मा ने अदालत में अधिवक्ता बीएस फौजदार के माध्यम से बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत व प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ कोर्ट में परिवाद दाखिल किया है. जिसमें उन्होंने आरोप लगाया है कि प्रार्थी ने 17 नवंबर 2021 को दैनिक समाचार पत्रों व चैनलों में अभिनेत्री कंगना द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रति अपशब्द कहकर देश में अराजकता का माहौल पैदा करने की पोस्ट को देखा व पड़ा. इसमें अभिनेत्री का बयान ‘आजादी भीख में मिली थी’ भी शामिल था. इसके अलावा अहिंसा के सिद्धांत का उपहास उड़ाया गया. अधिवक्ता रमाशंकर शर्मा ने बताया कि कंगना के इतने बड़े बयान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप रहे, उन्होंने कोई एक्शन नही लिया. इसके कारण पीएम मोदी को भी शामिल किया गया है. कंगना ने अहिंसा के सिद्धांत का मज़ाक उड़ाया है.

गौरतलब है कि कंगना ने कुछ दिनों पहले कहा था कि भारत को आज़ादी भीख में मिली थी. इस पर कई लोग उनसे नाराज़ हो गए थे और उन पर कार्रवाई की मांग करने लगे थे.

Tags: Agra news, Kangna Ranaut, Narendra modi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here