Chandra Grahan‌ 2022: लखनऊ में चंद्रग्रहण का क्या पड़ेगा प्रभाव, किस मंत्र का जाप करने से मिलेगी राहत, जानें सबकुछ…

0
15


अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. इस साल का अंतिम चंद्र ग्रहण मंगलवार आठ नवंबर को लग रहा है. इस दिन कार्तिक पूर्णिमा के साथ देव दीपावली भी है. ऐसे में ग्रहण को शुभ नहीं माना जाता है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चंद्रग्रहण कितने बजे लगेगा, सूतक काल क्या होगा और इस दौरान किस मंत्र का जाप करने से लोगों पर इसका दुष्प्रभाव नहीं पड़ेगा. यह जानने के लिए न्यूज़ 18 लोकल राजेंद्र नगर स्थित श्री महाकाल मंदिर पहुंची जहां के पुजारी महादेव तिवारी ने बताया कि लखनऊ में सूतक काल सुबह 8.30 बजे शुरू हो जाएगा. क्योंकि सूतक काल चंद्र ग्रहण के नौ घंटे पहले लग जाता है. शाम के 5.09 बजे लखनऊ में चंद्र ग्रहण लग जाएगा और शाम के सात बजे समाप्त होगा. वहीं, मोक्ष काल 6.19 बजे लगेगा.

उन्होंने बताया कि चंद्रमा मन का कारक होता है. इसका असर सीधे तौर पर लोगों के मन पर पड़ेगा जिससे यह थोड़ी देर के लिए विचलित होकर चंचलता को बढ़ा सकता है. इसके साथ ही जरूरी है कि चंद्र ग्रहण के दौरान पानी से यानी जल तत्व से थोड़ा दूर रहें. मंदिर के कपाट बंद रहेंगे. पूजा पाठ नहीं होगी, लेकिन मंत्रों का जाप कर सकते हैं.

चंद्र मंत्र ऊँ सोमाय नम: का करें जाप

पंडित महादेव तिवारी ने बताया कि क्योंकि चंद्रमा महादेव के सिर पर विराजमान है. धार्मिक शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि चंद्र मंत्र का जाप करने से ग्रहण का प्रभाव लोगों के जीवन पर बिल्कुल भी नहीं पड़ता. वह मंत्र है चंद्रमंत्र- ऊँ सोमाय नम: ग्रहण के दौरान इस मंत्र का जाप जरूर करें. जब ग्रहण खत्म हो जाए तो स्नान करने के बाद क्योंकि देव दीपावली है तो दीपदान जरूर करें. साथ ही जिन लोगों के घर में मंदिर है तो उसकी साफ-सफाई कर के उसका शुद्धिकरण करें, और इसके बाद आरती कर के फिर मंदिर के कपाट बंद करें.

Tags: Astrology, Chandra Grahan, Lucknow news, Up news in hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here