Char Dham Yatra: साध्वी प्राची ने गैर हिंदुओं की एंट्री पर ऐतराज दोहराया, अब शुरू होगा ऑपरेशन मर्यादा

0
23


देहरादून. चार धाम यात्रा शुरू होने में बमुश्किल दो हफ्ते शेष रह गए हैं और इसे लेकर पुलिस व प्रशासन तो हरकत में है ही, साधु संतों की बयानबाज़ी भी तेवरों के साथ जारी है. उत्तराखंड पुलिस आज 21 अप्रैल से एक ऑपरेशन शुरू करने जा रही है, जिसके तहत बाहरी राज्यों के जो लोग यहां रह रहे हैं, उनके रिकॉर्ड और गतिविधियों की जांच पड़ताल की जाएगी. यह ड्राइव चार धाम यात्रा से ठीक पहले इसलिए शुरू हो रही है क्योंकि साधु संतों ने इस तरह की मांग की थी और बुधवार को मुज़फ्फरनगर में साध्वी प्राची ने भी यह बात दोहराई.

बाहरी राज्यों के लोगों की कड़ी जांच की यह ड्राइव अगले 10 दिनों तक मुस्तैदी से चलाई जाने वाली है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा इस तरह के निर्देश दिए जाने के बाद पुलिस और प्रशासन मिलकर संदिग्धों की तलाश में जुट गए हैं. असल में हरिद्वार से धर्म संसद के आयोजक स्वामी आनंद स्वरूप द्वारा धामी को पत्र लिखकर मांग की गई थी कि चार धाम यात्रा में गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित हो, इसके बाद धामी ने यात्रा शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न करने के लिए संदिग्धों के खिलाफ मुहिम चलाने के निर्देश दिए थे.

क्या है ऑपरेशन मर्यादा और कैसे चलेगा?
उत्तराखंड पुलिस का कहना है कि मुख्यमंत्री के निर्देश के अनुसार ही यह मुहिम चलाई जाएगी. टीओआई की खबर के मुताबिक डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि बाहरी राज्यों के लोगों का बैकग्राउंड जांचा जाएगा. हॉकरों और सड़क किनारे ठेले आदि लगाने वालों की जांच भी होगी. ‘संदिग्ध तत्वों’ पर नज़र रखी जाएगी और पुलिस उन लोगों पर भी निगरानी रखेगी जो धार्मिक यात्राओं व कार्यक्रमों के समय सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश करते हैं.

कुमार का कहना है कि सांप्रदायिक तनाव न हो, इसके लिए पुलिस सोशल मीडिया पोस्ट को मॉनिटर करने की रणनीति भी बना रही है. गुरुवार से शुरू होने जा रहे इस अभियान को ‘ऑपरेशन मर्यादा’ नाम दिया गया है. कुमार के मुताबिक अभियान में खास ज़ोर धार्मिक स्थलों के आसपास ‘संदिग्धों की गति​विधियों’ पर रहेगा. ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन भी लिया जाएगा.

20% हैं तो पत्थर फेंकते हैं, 50% हो गए तो..!
साध्वी प्राची ने चार धाम यात्रा में गैर हिंदुओं के प्रवेश को वर्जित करने की मांग दोहराते हुए कहा कि जैसे हज में गैर मुस्लिम और ईसाई धर्म स्थलों पर गैर ईसाई नहीं जा पाते, वैसे ही हिंदुओं के धार्मिक आयोजनों में गैर हिंदुओं का प्रवेश वर्जित होना चाहिए. फायर ब्रांड साध्वी कही जाने वाली प्राची ने हालिया सांप्रदायिक घटनाओं के संदर्भ में मुस्लिम समुदाय के लिए कहा कि ‘अभी ये 20% हैं तो पत्थरबाज़ी करते हैं, 50% हो गए तो हिंदुओं की शवयात्रा निकलना तक मुश्किल हो जाएगा.’

आपके शहर से (मुजफ्फरनगर)

उत्तर प्रदेश
मुजफ्फरनगर
उत्तर प्रदेश
मुजफ्फरनगर

Tags: Char Dham Yatra, Uttarakhand Police



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here