Chitrakoot: डेंगू बुखार के मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या, रेफर सेंटर बना जिला अस्पताल 

0
19


धीरेंद्र शुक्ला

चित्रकूट. उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में लगातार बारिश होने के कारण डेंगू और मलेरिया जैसी मच्छरजनित बीमारियों के मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. सरकारी अस्पतालों में डेंगू के मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है. डाक्टरों के मुताबिक मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियां गंदगी और जल भराव की वजह से फैलती हैं. इस बीमारी ने स्वास्थ विभाग और नगर पालिका के सफाई अभियान की पोल खोल कर रख दी है. लापरवाही का यह आलम है कि विभाग के द्वारा साफ-सफाई के लिए कीटनाशक दवाओं तक का छिड़काव नहीं किया जा रहा.

सरकारी और निजी अस्पतालों में इलाज के लिए आने वाले ज्यादातर मरीज डेंगू से पीड़ित हैं. पिछले तीन दिन के आंकड़ों पर गौर करें तो जिला अस्पताल की ओपीडी में रोजाना आने वालों मरीजों में 70 फीसदी से अधिक मरीज मच्छरजनित रोगों से पीड़ित हैं. इसी प्रकार, मंगलवार को यहां आए मरीजों में से 60 प्रतिशत से अधिक मरीज डेंगू, मलेरिया बुखार आदि के थे. यही हाल बुधवार को आने वाले मरीजों का भी रहा. ज्यादातर में डेंगू, मलेरिया, टायफाइड आदि से पीड़ित मरीज सामने आए हैं. यही नहीं जिला अस्पताल में इलाज के नाम पर मरीजों को रेफर कर दिया जाता है.

चित्रकूट के चिकित्सा अधीक्षक का बयान
न्यूज़ 18 लोकल ने चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर सुधीर शर्मा से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय में डेंगू और मलेरिया से मरीजों के लिए व्यवस्था की जा रही है. साथ ही लोगों को मच्छरजनित रोगों के प्रति सावधानी बरतने की सलाह दी गई है. लोग अपने आस-पास सफाई रखें ताकि डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों से बचाव किया जा सके. रात्रि में सोने के दौरान लोग आवश्यक रूप से मच्छरदानी का उपयोग करें.

उन्होंने बताया कि डेंगू के सीरियस मरीजों को हमलोग बेहतर इलाज के लिए प्रयागराज रेफर कर देते हैं.

Tags: Chitrakoot News, Dengue fever, Malaria, Mosquitoes, Up news in hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here