Chndra Grahan: प्रयागराज समेत इन शहरों में इतने बजे से लगेगा चंद्र ग्रहण, जानें क्या-क्या बरतें सावधानियां

0
16


हाइलाइट्स

प्रयागराज में चंद्र ग्रहण का काल शाम 5.15 बजे से शुरू होगा
चंद्र ग्रहण का काल भारत में ज्यादा समय का नहीं है, लिहाजा खास असर नहीं होगा
ज्योतिषों के मुताबिक चंद्र ग्रहण काल के दौरान कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए

प्रयागराज. कार्तिक पूर्णिमा के दिन आज साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है. कार्तिक मास में दीपावली पर्व के बाद जहां ग्रस्तास्त सूर्य ग्रहण पड़ा था, तो वहीं मंगलवार को ग्रस्तोदय चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है. विश्व में चंद्र ग्रहण दोपहर 2 बजकर 39 मिनट पर लगेगा, तो वहीं भारत में यह 4 बजकर 20 मिनट पर ईटानगर इंफाल में शुरू होगा. जबकि संगम नगरी प्रयागराज में 5 बजकर 15 मिनट पर चंद्र ग्रहण का प्रभाव शुरू होगा. वाराणसी में 5 बजकर 10 मिनट, लखनऊ में 5 बजकर 16 मिनट और दिल्ली में चंद्र ग्रहण 5 बजकर 29 मिनट पर शुरू होगा. वहीं पूरे देश में एक साथ चन्द्र ग्रहण का मोक्षकाल 6 बजकर 19 मिनट पर पूरा होगा.

चंद्र ग्रहण के 9 घंटे पहले सूतक काल कहा जाता है, इसलिए सूतक काल लगते ही मंदिरों में पूजा अर्चना के बाद कपाट बंद कर दिए गए हैं. सूतक काल में देवी प्रतिमाओं का स्पर्श वर्जित है. इसके साथ ही मंदिर के बाहर से ही श्रद्धालु गंगा, यमुना व दूसरी पवित्र नदियों में स्नान कर मंत्रों का जाप करते हैं, ताकि उनकी राशियों पर चंद्र ग्रहण का कोई नकारात्मक प्रभाव न पड़े. शाम 6 बजकर 19 मिनट पर चंद्रग्रहण का मोक्ष साल पूरा होने के बाद मंदिरों में साफ-सफाई की जाएगी. इसके बाद ही मंदिरों में विशेष आरती के बाद श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए कपाट खोल दिए जाएंगे.

ग्रहण काल के दौरान बरतनी चाहिए सावधानियां
ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक देश में चंद्र ग्रहण का ज्यादा काल नहीं है, इसलिए इसका कोई खास असर नहीं पड़ेगा. लेकिन इसके बावजूद लोगों को इस दौरान कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. लोगों को अपने आराध्य का ध्यान और मंत्रों का जाप करना चाहिए. हालांकि बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बीमार लोगों को सिर्फ सूर्य ग्रहण के काल में ही बचाव करना चाहिए.

Tags: Allahabad news, Chandra Grahan, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here