CM Bhupesh Baghel say BJP hates Chhattisgarhi farmers demand apology on D Purandeshwari statement – CM भूपेश बघेल बोले

0
16


रायपुर. बीजेपी (Chhattisgarh) की प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी (D Purandeshwari) का बयान अब उन्हीं की पार्टी के लिए भारी पड़ता जा रहा है. पुरंदेश्वरी के थूक वाले बयान पर कांग्रेस बीजेपी पर लगातार हमलावर है. शनिवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने सूबे के 9 मंत्रियों के साथ इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर बीजेपी को निशाने पर लिया है. सीएम बघेल ने कहा,’डी पुरंदेश्वरी ने  भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता थूक देंगे तो कांग्रेस पार्टी बह जाएगी कहा. थूकने का मतलब है घृणा करना, नफरत करना. ये किसानों की सरकार है और मैं मुख्यमंत्री बाद में हूं,’ मुख्यमंत्री ने कहा कि ये बयान बताता है कि भाजपा छत्तीसगढ़ियों और किसानों से कितनी नफरत करती है. मेरे सहित मेरे मंत्रिमंडल के अधिकतर साथी पहले किसान हैं. ये बताता है कि बीजेपी को किसानों के प्रति, अल्पसंख्यकों के प्रति, आदिवासियों से कितनी नफरत है. भाजपा प्रदेश प्रभारी किसानों पर थूकने की बात कह रही है.

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि ये लोग नफरत की फसल उगा रहे हैं. ये दुर्भाग्यजनक है कि इस बयान के बाद ये तीसरा दिन है. भारतीय जनता पार्टी की तरफ से कोई खंडन, बयान या माफीनाम नहीं आया. इसका मतलब ये है ना सिर्फ पुरंदेश्वरी  बल्कि बीजेपी की प्रदेश ईकाई और राष्ट्रीय नेतृत्व भी ये सोचती है कि छत्तीसगढ़िया नफरत के लायक है. सीएम ने मांग की है कि इस मामले में बीजेपी पूरे छत्तीसगढ़ से माफी मांगे.
रविन्द्र चौबे ने कहा– तीन दिन के चिंतन से केवल थूक निकला

रविन्द्र चौबे ने कहा कि नगरनार बिक रहा है उसके बारे में एक शब्द नहीं. नक्सल मूवमेंट को हम समाप्त करने जा रहे हैं, उसे लेकर चर्चा तक नहीं. बस्तर में वहां के लोगों को रोजगार देने के लिए बस्तर कैडर बनाकर सरकार रोजगार दे रही है, उस पर एक शब्द नहीं. मैं उम्मीद करता था कि तीन दिन के चिंतन में कुछ तो निकलेगा, लेकिन दुर्भाग्य उनका केवल थूक निकल पाया.
वनमंत्री मो. अकबर ने भी डी पुरंदेश्वरी के बयान की निंदा करते हुए कहा कि थूकने के लिए प्रेरित करना भी महामारी एक्ट में दण्डनीय अपराध है. अगर किसी ने कलेक्टर से शिकायत कर दी तो ये लेने के देने पड़ जाएंगे. वहीं शिक्षा मंत्री टेकाम ने कहा कि बीजेपी को अपनी चिंता करनी चाहिए. मंत्री शिव डहरिया ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी ने हमेशा नफरत और जाति समाज की राजनीति की है.

ये भी पढ़ें: CG Politics: मिशन 2023 के लिए BJP का ब्लूप्रिंट तैयार! चिंतन शिविर में निकला सत्ता वापसी का फॉर्मूला

9 मंत्रियों के साथ फिर एक बार सबको साथ दिखाने की कोशिश

सीएम बघेल की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक बार फिर ये दिखाने की कोशिश की गई कि कांग्रेस में सब-कुछ ठीक ठाक है. सीएम के साथ यहां सूबे के 9 मंत्री दिखाई दिए जिनमें कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, वनमंत्री मो. अकबर, स्कूल शिक्षामंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया, खाद्यमंत्री अमरजीत भगत, महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेडिया, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, पीएचई मंत्री गुरू रुद्र कुमार और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल मौजूद रहे. वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू और राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल की गैर-मौजूदगी को लेकर भी चर्चा चलती रही.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here