CM Shivraj announced Total lockdown will not be applicable in MP at the moment

0
107


भोपाल. एमपी में फिलहाल टोटल लॉकडाउन नहीं होगा. सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा लॉकडाउन अंतिम विकल्प है. सभी ज़िलों की स्थिति की समीक्षा करने के बाद कोई फैसला लिया जाएगा. उन्होंने MP का नया मतलब गढ़ा. सीएम ने कहा एमपी मतलब मास्क पहनना.उन्होंने कहा कोरोना के खिलाफ जंग में हमें बहुत व्यापक समर्थन सभी वर्गों से मिल रहा है. लेकिन इस बीमारी की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है. इससे निपटने के लिए समाज को प्रशासन के साथ मिलकर लड़ना होगा.

सीएम शिवराज (CM Shivraj) का कोरोना (Corona) के खिलाफ लोगों में जागरुकता लाने के लिए स्वास्थ्य आग्रह आज 24 घंटे बाद भोपाल (Bhopal) में पूरा हो गया. भोपाल के मिंटो हॉल में किेये गए इस आग्रह में उन्होंने आज धर्मगुरुओं से सुझाव लिए.उससे पहले उन्होंने समाज के अलग-अलग तबकों से सुझाव मांगे. सीएम शिवराज ने कहा एमपी का मतलब है मास्क पहनना. उन्होंने ये कहकर सबको राहत दी कि लॉकडाउन अंतिम विकल्प होगा.

लॉकडाउन अंतिम विकल्प
सीएम ने कहा कंटेनमेंट जोन आधारित लॉकडाउन लगाया जाएगा. लॉक डाउन अंतिम विकल्प होगा. जिन जिलों में जरूरत है वहां पर विचार करने के बाद अंतिम विकल्प के रूप में लॉक डाउन लगाए जाएगा. इससे पहले अनुमान लगाए जा रहे थे कि लॉक डाउन को लेकर सीएम कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं. कल हुई बैठक में लॉकडाउन का सुझाव आया था.Kill Corona 2

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कोरोना के बिगड़ते हालात को देखते हुए प्रदेश में फिर से किल कोरोना टू अभियान चलाया जाएगा. सर्वे कर लोगों को चिन्हित कर इलाज कराया जाएगा. होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की दिन में दो बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जाएगी. प्रत्येक जिले में कोविड केयर सेंटर की स्थापना की जाएगी. इन सेंटर्स में संक्रमित मरीजों को रखा जाएगा.

इंजेक्शन की व्यवस्था की जाएगी
सीएम ने कहा इंजेक्शन के संबंध में s.o.p. और एक प्रोटोकॉल को जारी किया जाएगा. इसकी पूर्ति के लिए सरकार खुद इन इंजेक्शन्स को खरीदेगी ताकि गरीबों को यह इंजेक्शन निशुल्क मिल सकें.दवा की कालाबाजारी और अनाप-शनाप रेट पर कंट्रोल करने के लिए हम मॉनिटरिंग करेंगे.रियल टाइम अस्पतालों में कितने बेड खाली हैं उसकी जानकारी आम जनता को मिले इसकी व्यवस्था भी बनाई जा रही है.

बिस्तर बढ़ाए जाएंगे
-कोरोना संक्रमण बढ़ता देख प्रदेश में कोरोना मरीज़ों के लिए अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाए जाएंगे. 24 हजार बिस्तरों को बड़ा बढ़ाकर 36 हजार किया जाएगा. निशुल्क इलाज के लिए 15000 बिस्तर उपलब्ध कराए जा रहे हैं.प्राइवेट अस्पतालों में भी सरकार बिस्तर बुक करेगी जिससे गरीबों का निशुल्क इलाज हो सके.-जांच की दरें तय कर दी गई हैं.इसकी लिस्ट अस्पताल में डिस्प्ले करना होगीं. यह समय अभिकतम पैसा कमाने का नहीं है बल्कि समाज सेवा औऱ गरीबों की सेवा करने का है.

गरीबों को निशुल्क मिले मास्क
सीएम ने कहा हम ऑक्सीजन की कमी नहीं होने देंगे. गरीबों को मास्क मिल जाए ये बेहद ज़रूरी है. रोज नये मास्क इस्तेमाल की ज़रूरत नहीं. मास्क को धोकर दोबारा भी इस्तेमाल किया जा सकता है. जीवन शक्ति योजना के तहत हम महिला उद्यमियों को 10 लाख मास्क बनाने की इजाजत दे रहे हैं.

34 हजार वॉलेंटियर्स
CM शिवराज ने कहा कोरोना वॉलेंटियर्स के लिए हमने आव्हान किया था. अभी तक 34 हजार वॉलेंटियर्स अप्लाई कर चुके हैं. ये चार तरह के होंगे. ये समाज को मास्क पहनने के लिए समाज और प्रदेश को जागरुक करेंगे.जन अभियान परिषद के नेतृत्व में कलेक्टर इन वॉलिंटियर ट्रेनिंग देंगे और इनकी मदद लेंगे..इनका सहयोग उपयोगी रहेगा.मास्क का अभियान गति पकड़ता जा रहा है.

मीडिया में आएं सकारात्मक खबरें
सीएम शिवराज ने कहा हमने 52 जिलों से चर्चा की है. सभी तरफ से सुझाव आए हैं. मीडिया में सकारात्मक खबर आना चाहिए.उन्होंने कहा कोरोना योद्धाओं की कहानी का प्रचार होना चाहिए.

महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़ की सीमाएं सील
कोरोना के बिगड़ते हालात के बीच मध्य प्रदेश में महाराष्ट्र के बाद अब छत्तीसगढ़ से लगी सीमाएं भी सील कर दी गयी हैं. 15 अप्रैल तक यात्री वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी गयी है. महाराष्ट्र की सीमाएं पहले से ही सील हैं. अब देश में दूसरे नंबर पर छत्तीसगढ़ में संक्रमण बढ़ने के बाद वहां की सीमाएं भी सील करना पड़ी हैं.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here