cologne-world-cup boxer satish-kumar-enters-finals

0
10


सतीश ने 91 किग्रा से अधिक भार वर्ग में फाइनल में प्रवेश कर लिया है फोटो क्रेडिट (@WeAreTeamIndia)

सतीश कुमार ने जर्मनी में चल रहे कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप के फाइनल में जगह बना ली है

नई दिल्ली. कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स के सिल्‍वर मेडलिस्‍ट सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) ने सेमीफाइनल में फ्रांस के जामिली डिनी मोइनडेज को हराकर जर्मनी में चल रहे कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई. एशियाई खेलों और एशियाई चैंपियनशिप के पूर्व कांस्य पदक विजेता सतीश ने मोइनडेज को 4-1 से हराया. फाइनल में उनका मुकाबला जर्मनी के नेल्वी टियाफैक से होगा. महिला वर्ग के 57 किग्रा में साक्षी और मनीषा भी फाइनल में पहुंच गई हैं. खिताबी मुकाबले में अब ये दोनों मुक्केबाज आमने सामने होंगी. मनीषा ने विश्व चैंपियनशिप में दो बार की पदक विजेता हमवतन सोनिया लाठेर को 5-0 से जबकि साक्षी ने जर्मनी रमोना ग्राफ को 4-1 से हराया. एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता पूजा राय हालांकि नेदरलैंड्स की नोचका फोंटजिन से हार गयी. पुरुषों के 57 किग्रा में मोहम्मद हसमुद्दीन और गौरव सोलंकी को भी कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा. हसमुद्दीन को स्थानीय मुक्केबाज हमसत शादालोव ने जबकि सोलंकी को फ्रांस के सैमुअल क्रिस्टोहरी ने हराया. यह भी पढ़ें : Ind vs Aus: 23 बार 50 से कम स्कोर पर सिमट चुकी हैं टीमें, जानें किस टीम का है सबसे बुरा रिकॉर्ड और कहां है भारत?मेस्सी और रोनाल्डो को पछाड़कर लेवांडोवस्की बने फीफा के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर इससे पहले अमित पंघाल (52 किग्रा) ने फाइनल में जगह बना ली थी, जबकि तीन अन्य भारतीय मुक्केबाजों ने रिंग में उतरे बिना गुरुवार को पदक पक्के कर चुके थे. भारतीय दल में हालांकि एक सहयोगी स्टाफ कोविड-19 पॉजिटिव भी पाया गया. एशियाई खेलों के चैंपियन और विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता पंघाल ने सेमीफाइनल में विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता फ्रांस के बिलाल बेनामा को हराया. बेनामा ने जब विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था तो पंघाल ने रजत पदक हासिल किया था. हरियाणा के मुक्केबाज ने एकतरफा मुकाबले में 5-0 से जीत दर्ज की.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here