Corona infection in bihar 300 blocks in grip 6541 patients found in one day brvj

0
27


पपटना. बिहार में ओमिक्रॉन वायरस के संक्रमण की रफ्तार में फिर से इजाफा देखने को मिल रहा है. शुक्रवार की शाम तक एक दिन में राज्य में 6541 मरीजों में एक बार फिर से संक्रमण की पुष्टि हुई और राज्य में अब एक्टिव केसेज की संख्या बढ़कर 34084 तक पहुंच गई है. पटना में सबसे ज्यादा 2116 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई. पटना में एक्टिव केसेज की संख्या बढ़कर 13927 हो गई है. वहीं, पटना के अलावा बेगूसराय में 258, भागलपुर में 229, दरभंगा 197, पूर्णिया 199, समस्तीपुर 228, मुजफ्फरपुर 427, वैशाली 144, वेस्ट चंपारण 123, नालंदा 136, कटिहार 124, मधेपुरा 139 , गया में 132 और सारण में भी 117 मरीज मिले हैं.

बढ़ते संक्रमण के साथ चिंता की बात ये है कि राज्य में रिकवरी दर में तेजी से गिरावट हो रही है और अब रिकवरी रेट घटकर 94.04 तक पहुंच गया है. वहीं, मरीजों के मौत का सिलसिला भी जारी है. पटना एम्स में 3 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई. हालांकि मरीजों की सिर्फ कोरोना से मौत नहीं हुई है बल्कि डॉक्टरों की मानें तो जितनी भी मौतें हो रही है. अधिकतर मरीजों में मल्टीपल डिजीज की समस्या रह रही है, यानी हार्ट, किडनी, लीवर, सर्जरी, ब्रेन हेमरेज या कैंसर के मरीजों की मौत हो रही है. दरअसल ऐसे मरीजों की इम्युनिटी पावर काफी कम रहती है.

वहीं, पटना की बात करें तो यहां इनकमटैक्स डिपार्टमेंट के जीएसटी में एक साथ 70 से ज्यादा कर्मचारी और अधिकारी पॉजिटिव पाए गए हैं जिसकी वजह से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने हड़कम्प मचा रहा. रिपोर्ट आते ही सभी को होम आईसोलेशन में भेज दिया गया. वहीं, कार्यालय परिसर और दफ्तर के अंदर पूरी तरह से सैनिटाईजेशन का काम शुरू है. पटना में सबसे ज्यादा मरीज संक्रमित हो रहे हैं तो सबसे ज्यादा मरीज होम आईसोलेशन ने ही हैं. हेल्थ डिपार्टमेंट की तरफ से हिट एप के जरिये सभी होम आईसोलेशन वालों की निगरानी की जा रही है और सभी के घर डाक से मेडिसिन किट भेजी जा रही है.

आपके शहर से (पटना)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here