COVID 19 Deaths: कांग्रेस का केजरीवाल सरकार पर हमला, कहा-ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों पर पीड़ित परिवारों को दे 5 लाख का मुआवजा

0
11


नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second wave) के दौरान ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं होने का मोदी सरकार (Modi Government) की ओर से राज्यसभा में दिए गए जवाब पर कांग्रेस (Congress) ने आश्चर्य व्यक्त किया है.

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा है कि केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) की नाकामी की वजह से दिल्ली की जनता ने आक्सीजन के लिए दर-दर भटकते देखा है. आक्सीजन की कमी से कई मौतें अस्पतालों के बाहर ऑटो, एम्बुलेंस तथा बीच सड़कों पर हुईं.

ये भी पढ़ें : Delhi Monsoon Session: 29 जुलाई से शुरू हो रहा विधानसभा सत्र, BJP ने सत्र से पहले कही अध्यक्ष के लिए ये बड़ी बात!

चौ. अनिल कुमार ने दिल्ली सरकार (Delhi Government) से मांग की है कि दिल्ली में हुई ऑक्सीजन की कमी से मौतों की सही जानकारी दें और उन सभी परिवारों को कम से कम 5 लाख रुपए अर्थिक सहायता के रूप में मुआवजा दें.

अनिल कुमार ने कहा कि दूसरी लहर के दौरान सैंकड़ों मौतें ऑक्सीजन की कमी से हुई हैं. केजरीवाल सरकार ने जयपुर गोल्डन अस्पताल (Jaipur Golden Hospital) मामले में दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में अपनी ही सरकार द्वारा गठित एक समिति की रिपोर्ट पेश कर ऑक्सीजन से हुई मौतों को नकारा था. अब राज्य सभा में पूछे गए सवाल के जबाव में उन्होंने पूरी दिल्ली में एक भी मौत ऑक्सीजन से नहीं होने की बात कही है.

ये भी पढ़ें : E-Autos : सड़कों पर 4,000 ई-ऑटो रिक्शा उतारेगी दिल्ली सरकार, बैटरी रिक्शा चालकों ने जताई आपत्ति

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि एक तरफ मंत्री व मुख्यमंत्री ऑक्सीजन की कमी से हुइ मौत की बात मीडिया में स्वीकार करते हैं तो दूसरी तरफ कोर्ट व राज्य सभा में अलग ही सूचना पेश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि केजरीवाल व भाजपा (BJP) के द्वारा इस खेल की असली मंशा ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत के आरोप से मोदी केजरीवाल को बचाना तथा पीड़ित परिवारों को मुआवजे की राशि से वंचित करना चाहते है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here