Crime In Bihar: Shopkeeper was murdered in a dispute over cigarettes in Danapur

0
161


दानापुर. एक सिगरेट उधार न देना दुकानदार के लिए जानलेवा बन गया. उधार सिगरेट न मिलने से बौखलाए शराबी ने बुधवार की रात दुकानदार गोली मार दी. मौके पर ही दुकानदार की मौत हो गई, जबकि हत्यारा वहां से फरार हो गया. बताया जा रहा है कि हत्या वाले दिन से पहले भी इन दोनों के बीच पैसे की लेनदेन को लेकर झड़प हुई थी. तब मुलजिम ने देख लेने की धमकी दी थी.

यह वारदात दानापुर के विक्रम थाना क्षेत्र में हुई है. यहां के परियावां गांव में यह वारदात हुई है. मारे गए शख्स की शिनाख्त परियावां गांव के रहने वाले सोमेरू साव के बेटे पंकज साव के रूप में हुई है. वारदात की जानकारी मिलने के बाद विक्रम थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाश को कब्जे में लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए पटना एम्स भेज दिया.

बताया जाता है कि बुधवार देर रात सुजीत कुमार नाम का शख्स शराब के नशे में दुकान पर आया. वह दुकान पर बैठे विक्रांत कुमार से गाली गलौज करने लगा. बात थोड़ी बढ़ी और मारपीट तक पहुंच गई. इसी बीच विक्रांत कुमार का चचेरा भाई पंकज साव भी वहां पहुंच गया. पंकज ने विक्रांत को यह कहते हुए घर भेज दिया कि तुम्हारे यहां रहने से मामला आगे बढ़ जाएगा. तभी सुजीत कुमार भाग कर अपने घर गया और पिस्टल लेकर आया. उसने दुकान पर बैठे विक्रांत कुमार के चचेरे भाई पंकज साव को गोली मार दी और हथियार लहराते हुए फरार हो गया.

वारदात के तुरंत बाद घटना के तुरंत बाद पकंज के परिजन उसे अस्पताल ले गए. लेकिन वहां डॉक्टरों ने पंकज को मृत घोषित कर दिया. इस वारदात के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है. मृतक पंकज के भाई विक्रांत कुमार ने बताया कि 2 दिन पहले सुजीत उर्फ रवि से उधार को लेकर के विवाद हुआ था और उस दौरान सुजित उर्फ रवि ने शराब के नशे में देख लेने की धमकी दी थी. इस मामले में विक्रम थाने की पुलिस ने परिजनों के लिखित आवेदन के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है.

आपके शहर से (पटना)

Tags: Crime In Bihar, Murder, Postmortem



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here