cryptocurrency wiped off in last 3 months Nearly 30000 Bitcoin millionaires suffered from this loss – Business News India

0
161


बिटकॉइन (Bitcoin) के भाव में गिरावट का सिलसिला लगातार जारी है। बिटकॉइन की कीमत नवंबर में जहां 69,000 डॉलर थी, जो अब यानी गुरुवार को घटकर 36,000 डॉलर रह गई है। इस गिरावट ने पिछले तीन महीनों में लगभग 30,000 बिटकॉइन करोड़पतियों का सफाया कर दिया है। फाइनेंसियल न्यूज पोर्टल फिनबोल्ड (Finbold) की रिपोर्ट के मुताबिक, अक्टूबर और जनवरी के बीच, 10 लाख डॉलर (लगभग 7.5 करोड़ रुपये) से ज्यादा के बिटकॉइन रखने वालों की संख्या 28,186 तक यानी 24.26 फीसदी घट गई है। 

 

ये भी पढ़ें:- PMC बैंक के डिपॉजिटर्स को बड़ी राहत, पूरा पैसा निकालने का मिला विकल्प

 

फिनबोल्ड की रिपोर्ट में ये जानकारी भी मिली है कि 1 लाख डॉलर से ज्यादा वालेट होल्डिंग वाले इन्वेस्टर की संख्या 30.04 फीसदी की कमी के साथ 5,05,711 से घटकर 3,53,763 रह गई है। 10 लाख डॉलर और उससे ज्यादा वाले एड्रेस की संख्या 23.5 फीसदी कमी के साथ 1,05,820 से घटकर 80,945 रह गई है। बिटकॉइन के जरिए बने अमीर लोगों की संख्या में गिरावट आने की वजह हाल के हफ्तों में इसमें उतार-चढ़ाव आना रहा है। Bitcoin ने नवंबर, 2021 में अपने सबसे उच्चतम स्तर को छुआ था। तब से अब तक केवल Bitcoin की वैल्यू में 600 अरब डॉलर से ज्यादा और पूरे क्रिप्टो मार्केट के वैल्यूएशन में लगभग एक लाख करोड़ डॉलर की कमी आ चुकी है। 

 

ये भी पढ़ें:- Air India की नई सुबह, पैसेंजर्स को सरप्राइज करेगा पायलट का वेलकम अनाउंसमेंट

 

इन वजाहों से गिरा बिटकॉइन 
सभी क्रिप्टोकरंसी में गिरावट की मुख्य वजह रेगुलेटरी स्क्रूटनी और जिओपॉलिटिकल तनाव मानी जा रही हैं। साथ ही कोविड के चलते इसके प्रदर्शन पर नकारात्मक असर पड़ा है। क्रिप्टोकरेंसी क्रैश तब हुई जब यूएस फेडरल रिजर्व ने मार्च में ब्याज दरों को बढ़ाने और बाजार से प्रोत्साहन वापस लेने की संभावना बढ़ाई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here