Delhi: स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- राजधानी में आ चुका कोरोना का पीक, अब केसों में आएगी गिरावट | Covid-19 cases may go down soon in Delhi says Health Minister | Patrika News

0
18


देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है। इस बीच स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि राजधानी में कोरोना वायरस का खतरा इस वक्त पीक पर है। लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अब नए मामलों में गिरावट दर्ज की जाएगी।

नई दिल्ली

Published: January 15, 2022 03:26:11 pm

देशभर में कोरोना वायरस लगातार अपने पैर पसार रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी कोविड के मामले इस वक्त तेज रफ्तार से बढ़ रहे हैं। यही वजह है कि सरकार की ओर तमाम कड़े कदम उठाए जा रहे है। इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का बड़ा बयान सामने आया है। सत्येंद्र जैन ने कहा कि इस वक्त दिल्ली में कोरोना मामले जरूर पीक पर हैं, लेकिन जल्द ही इसे गिरावट दर्ज की जाएगी। बता दें कि दिल्ली में भले ही नए मामलों में कमी देखने को मिली हो, लेकिन संक्रमण दर में इजाफा हुआ है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को कहा कि दिल्ली में बीते दिन कोरोना के मामले परसों की तुलना में साढ़े 4 हजार कम आए थे। दिल्ली में कोरोना के मामले पीक पर हैं, लेकिन अगले 24 घंटे में नए केसों में कमी यानी गिरावट दर्ज की जाएगी। उन्होंने कहा कि, दिल्ली में शनिवार 15 जनवरी को भी कोरोना के नए मामलों में 4,000 से ज्यादा कमी के आसार हैं।

यह भी पढ़ेँः देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ा

अस्पतालों में कम भर्ती हो रहे मरीज

जैने ने कहा कि राजधानी में कोविड का पॉजिटिविटी रेट लगभग 30 फीसदी तक होगा। पिछले 5-6 दिनों में अस्पताल में भर्ती होने की दर नहीं बढ़ी है। यह इस बात का संकेत है कि आने वाले दिनों में मामले और कम होने वाले हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि दिल्ली के अस्पतालों के 85 बेड खाली हैं। उन्होंने कहा कि ये कहा जा सकता है कि दिल्ली में कोविड का पीक आ गया है। बस अब मामलों में गिरावट दर्ज होना शुरू हो जाएगी।

वैक्सीनेशन नहीं लेने वालों की मौत

बता दें कि सत्येंद्र जैन ने शुक्रवार को कहा था कि राजधानी में कोविड-19 की मौजूदा लहर में जान गंवाने वाले 75 फीसदी मरीज ऐसे थे, जिन्होंने वैक्सीन ही नहीं लगवाई थी। जैन ने ये भी बताया कि स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, 9 जनवरी से 12 जनवरी के बीच जिन 97 लोगों की मौत संक्रमण से हुई, उनमें से 70 लोगों का टीकाकरण नहीं हुआ था, जबकि 19 ने टीके की पहली खुराक ली थी। जबकि आठ का पूर्ण टीकाकरण हो चुका था। उनके अलावा सात नाबालिग थे।

यह भी पढ़ेँ: DDMA का आदेश, दिल्ली में सभी रेस्त्रां, बार बंद, निजी दफ्तरों में भी वर्क फ्रॉम होम
24,384 मामले किए गए दर्ज

बता दें कि राजधानी में बीते दिन कोरोना वायरस के 24,383 नए मामले सामने आए, जबकि 34 और मरीजों ने कोरोना के चलते अपनी जान गंवाई। वहीं संक्रमण दर बढ़कर 30.64 प्रतिशत दर्ज की गई। नए मामले भले ही कम हो रहे हैं, लेकिन संक्रमण दर में इजाफा हो रहा है।

अगली खबर





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here