Delhi Government issued tender for purchasing of 320 new electric buses

0
13


नई दिल्ली. द‍िल्‍ली की सड़कों पर जल्‍द ही और नई चमचमाती इलेक्‍ट्र‍िक बसों (Electric Buses) को उतारा जाएगा. द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) के पर‍िवहन व‍िभाग (Transport Department) के ओर से इस संबंध में टेंडर प्रक्र‍िया शुरू कर दी है. कुल 140 इलेक्‍ट्र‍िक बसों की खरीद के ल‍िए टेंडर जारी कर द‍िए गए हैं. इससे पहले व‍िभाग की ओर से 190 ई बसों (E-Buses) की खरीद के टेंडर जारी क‍िए गए थे. यानी जल्द ही 320 इलेक्‍ट्रिक बसें कलस्‍टर स्‍कीम के तहत सड़कों पर उतारी जाएंगी.

बताते चलें क‍ि द‍िल्‍ली सरकार की ओर से कुल 1,000 लो फ्लोर इलेक्‍ट्रिक बसों की खरीद को मंजूरी दे चुकी है. द‍िल्‍ली कैबिनेट (Delhi Cabinet) ने इन बसों को कलस्‍टर स्‍कीम के तहत खरीदने की मंजूरी मार्च, 2019 में दे दी थी. लेक‍िन काफी प्रयासों के बाद भी अभी तक इन बसों की खरीद नहीं की जा सकी है. इससे पहले भी दो बार इन बसों की खरीद के ल‍िए टेंडर क‍िए जा चुके हैं.

ये भी पढ़ें: Kejriwal Government इन 100 चौराहों पर चलाएगी ‘रेड लाइट ऑन-गाडी ऑफ’ कैंपेन, तैनात होंगे 2,500 वॉलेंट‍ियर्स 

इस बीच देखा जाए तो इन ई बसों की खरीद द‍िल्‍ली पर‍िवहन व‍िभाग नहीं बल्‍क‍ि प्राईवेट कंपन‍ियां करेंगी. यह खरीद कलस्‍टर स्‍कीम के तहत ही की जाएगी. बताया जाता है कि इन ई बसों के खरीदने का प्रयास वर्ष 2018 से क‍िया जा रहा है. लेक‍िन कुछ अड़चनों की वजह से इनकी खरीद नहीं की जा सकी है. वहीं अब द‍िल्‍ली के पर‍िवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gahlot) के न‍िर्देश पर अब व‍िभाग ने इन ई बसों की खरीदने की प्रक्र‍िया को और तेज कर द‍िया है.

जानकारी के मुताब‍िक पर‍िवहन व‍िभाग की ओर से 190 ई बसों के खरीद संबंधी टेंडर को गत 2 अक्‍टूबर को जारी क‍िया गया था. आध‍िकारिक सूत्रों के मुताब‍िक इन बसों को केंद्र सरकार की फास्ट एडाप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ हाईब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स इन इंडिया (फेम) फेम-दो योजना के तहत लाया जाएगा. इस योजना के तहत प्रति बस 75 लाख की सब्सिडी सरकार देगी या बस की कुल कीमत की 60 फीसद राशि देगी. इसमें यह देखा जाएगा कि दोनों में से क‍िसके ल‍िए राश‍ि कम है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here