Despite corona demand for office space in gurugram doubled in 2021 nodbk

0
157


नई दिल्ली. दुनियाभर में कोरोना वायरस महामारी की वजह से निजी से लेकर सरकारी दफ्तरों तक में वर्क फ्रॉम होम सिस्टम से काम होने लगे. साल 2021 में तो कई मल्टीनेशनल कंपनियों ने पूर सालभर तक अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा दी. अब भी कई जगहों पर यही सिस्टम काम कर रहा है. लेकिन बीते दिनों एक रिपोर्ट ने इस धारणा से उलट आंकड़े सामने रखे हैं. जी हां, दिल्ली-एनसीआर में नोएडा से गुरुग्राम तक वर्क फ्रॉम होम के मुकाबले ऑफिस की डिमांड आश्चर्यजनक रूप से बढ़ गई है. रिपोर्ट के मुताबिक गुरुग्राम में साल 2021 में ऑफिस परिसर की डिमांग लगभग दोगुना ज्यादा रही. नोएडा में भी किराये पर ऑफिस लेने के आंकड़े में बढ़ोतरी देखी गई.

कोलियर्स इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुग्राम में साल 2020 के मुकाबले 2021 में किराये पर ऑफिस लेने का आंकड़ा दोगुना रहा. पिछले साल यानी 2021 में गुरुग्राम में करीब 40 लाख वर्गफुट ऑफिस पट्टे यानी किराये पर दिए गए. वहीं वर्ष 2020 में यह आंकड़ा सिर्फ 21 लाख वर्गफुट तक था. गुरुग्राम के मुकाबले नोएडा में यह आंकड़ा दोगुना नहीं था, लेकिन बढ़ोतरी यहां भी हुई. नोएडा में साल 2020 में जहां ऑफिस प्लेस की डिमांड 19 लाख वर्गफुट थी, वहीं साल 2021 में यह आंकड़ा 21 लाख वर्गफुट तक पहुंच गई. हालांकि, राजधानी दिल्ली में कार्यालय स्थल की मांग 2,00,000 वर्ग फुट पर स्थिर रही. कोलियर्स इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में कुल मिलाकर पट्टे पर कार्यालय स्थल की मांग 50 प्रतिशत बढ़कर 63 लाख वर्ग फुट हो गई, जो इससे पिछले साल यानी 2020 में 42 लाख वर्ग फुट थी. कार्यालय स्थल की कुल मांग में प्रौद्योगिकी कंपनियों की हिस्सेदारी 40 प्रतिशत रही.

तीन गुना होकर 10 लाख वर्ग फुट पर पहुंच गई
उपक्रमों और स्टार्टअप इकाइयों की प्रबंधित स्थल की बढ़ती मांग की वजह से ‘लचीले’ कार्यस्थलों की मांग 2021 में तीन गुना होकर 10 लाख वर्ग फुट पर पहुंच गई. कोलियर्स इंडिया के प्रबंध निदेशक (क्षेत्रीय किरायेदार प्रतिनिधित्व और कार्यालय सेवाएं-उत्तर भारत) भपेंद्र सिंह ने कहा कि कंपनियों की कार्यालय स्थल की मजबूत मांग से पता चलता है कि ‘वर्क फ्रॉम होम’ एक अंतरिम व्यवस्था है. दिल्ली-एनसीआर के बाजार में डीएलएफ लिमिटेड, ब्रुकफील्ड समूह, भारती रियल्टी और मैक्स समूह की कंपनी मैक्सवीआईएल प्रमुख रियल एस्टेट खिलाड़ी हैं, जो लीज पर कार्यालय स्थल उपलब्ध कराती हैं. सिंह ने कहा कि महामारी की शुरुआत के बाद से नोएडा में कार्यालय स्थल की मांग काफी बढ़ी है क्योंकि यह बेहतर बुनियादी ढांचे के साथ एक लागत दक्ष गंतव्य है.

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश

Tags: Gurugram news, Haryana news, Noida news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here