Doctors advised Ashok Gehlot to watch movies after 20 years chief minister saw Mother India film

0
23


जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को हार्ट की आर्टरी में आए ब्लॉकेज के बाद अगस्त में एंजियोप्लास्टी (angioplasty) हुई थी. मुख्यमंत्री की सेहत पहले से बेहतर है और वे कामकाज में सक्रिय भी हो गए हैं. इस बीच डाक्टरों ने उन्हें अब लाइफ स्टाइल (Life style) में बदलाव की सलाह दी है. डॉक्टरों ने गहलोत को अच्छी फिल्में (Good Movies) और वेब सीरीज देखने को कहा है. डाक्टरों के मुताबिक पॉजि​टिव थिंकिंग (Positive thinking) और अच्छी फिल्मों से दिल की सेहत बेहतर रही है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी डाक्टरों की सलाह मान ली है. उन्होंने कोई 20-25 साल बाद कोई फिल्म देखी है. गहलोत ने एक कार्यक्रम में खुद इसका जिक्र किया. उन्होंने कहा कि डॉक्टरों की सलाह मानते हुए आजकल फिल्में, वेब सीरीज देखना शुरू किया है.

सीएम गहलोत ने बालिका दिवस पर हुए वर्चुअल कार्यक्रम में कहा, “मैं फिल्में देखता नहीं लेकिन डाक्टरों की सलाह पर रात को मैंने एक फिल्म देखी. कोई 20-25 साल बाद फिल्म देखी होगी. यह फिल्म थी मदर इंडिया. मदर इंडिया की बात इसलिए कह रहा हूं क्योंकि उसमें नन्हें हाथ कलम के साथ का संदेश देते हुए एक मार्मिक नारा दिया गया है.

उन्होंने कहा, “डॉक्टरों ने कहा है कि आप अच्छी सीरीज देखें, फिल्में देखो. थोड़ा चेंज करो अपने आपको, क्योंकि आपके हार्ट में अभी तकलीफ हुई है.”

BJP विधायक मदन दिलावर ने दी सफाई, ‘मैंने गुस्से में कहा था, हां मैं खटीक हूं, बहुत बकरे काटे हैं

‘पढ़ा-लिखा होता तो साहूकार लूट नहीं पाता’
मुख्यमंत्री ने कहा कि मदर इंडिया फिल्म में दिखाया गया है कि पहले के जमाने में किसानों को साहूकार लूटते थे. ब्याज पर पैसा देते थे, मूल से ज्यादा कर्ज वसूल कर लेते थे. तो भी उन पर कर्जा रहता था. परिवार बर्बाद हो जाते थे. इस फिल्म में हीरो सुनील दत्त का परिवार भी लुट रहा था. फिल्म के हीरो को स्कूल में पढ़ाई शुरू करवाई. उसे पढ़ाने का उद्देश्य यह था कि साहूकार वाला हिसाब पढ़ सके. फिल्म में दिखाया गया कि साहूकार का हिसाब वह बच्चा पढ़ नहीं पाया. मैसेज गया ​कि पढ़ा-लिखा होता तो लुटता नहीं. शिक्षा पर जोर देना बहुत जरूरी है.

डॉक्टरों की सलाह का मुख्यमंत्री ने किया पालन
काबिले गौर है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की 27 अगस्त को हार्ट में ब्लॉकेज के बाद एसएमएस अस्पताल में एंजियोप्लास्टी की गई थी. कई दिन स्वास्थ्य लाभ के बाद सीएम अब राजनीतिक कार्यक्रमों में भाग ले रहे हैं, लेकिन डॉक्टर लगातार उनकी निगरानी कर रहे हैं. हार्ट में आए ब्लॉकेज के बाद गहलोत को अब डॉक्टर सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here