Dussehra 2022: यूपी के इस जिले में रावण को कराया जाता है ‘शराब’ का सेवन…जानें परंपरा

0
21


रिपोर्ट- विशाल भटनागर

मेरठ: विजयदशमी के पावन पर्व को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं. कलाकार भी विजयदशमी पर दहन के लिए रावण, कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले तैयार करने में जुटे हुए हैं. लेकिन मेरठ के भैंसाली मैदान में विजयदशमी के दिन एक अजीबोगरीब नजारा देखने को मिलता है. जहां रावण के पुतले के चरणों में आयोजकों द्वारा शराब का स्पर्श कराया जाता है. ताकि रावण का पुतला खड़ा हो सके.

दरअसल सालों साल से ऐसा देखा जा रहा है कि अगर शराब का सेवन ना किया जाए तो रावण का पुतला गिर जाता है. हालांकि यह सुनकर आप भी थोड़ा आश्चर्य चकित हो गए होगें. लेकिन यह दावा खुद कमेटी के अध्यक्ष पवन गर्ग द्वारा किया गया है. उनका कहना है कि, रावण में बुराइयों की शक्ति होती है. इस वजह से ऐसा करना पड़ता है.

सालों से चलती आ रही है परंपरा
1959 से यहां पर रामलीला का भी आयोजन किया जाता है. दशहरा पर भी भव्य रूप मेला आयोजित होता है. दशहरे वाले दिन ही रावण का दहन भी किया जाता है. तब से लेकर अब तक यह परंपरा चलती आ रही है. एक दो बार कमेटी द्वारा प्रयास भी किया गया. बिना शराब रखे पुतले को खड़ा किया जाए. लेकिन वह गिर गया. जिससे काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. उसके बाद से हर बार इस तरह का उपयोग किया जाता है.

130 फुट का होगा रावण
रावण के पुतले को भी विशेष रूप से बनाया जा रहा है. रावण जिस प्रकार रथ पर सवार होकर भगवान श्रीराम से युद्ध लड़ता है. उसी तरीके से रावण के पुतले को भी रथ पर सवार होकर ही दिखाया जाएगा. जिसके लिए एक तरफ जहां रावण का पुतला बनाया जा रहा है. वहीं घोड़े भी बनाए जा रहे हैं. साथ ही कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले बनाए जा रहे हैं.

हाईटेक माध्यम से होगा रावण का वध
बुराई के प्रतीक रावण दहन को लेकर भी हाईटेक तैयारियां की गई हैं. जहां राक्षस और भगवान रामजी का युद्ध ड्रोन के माध्यम से दिखाया जाएगा.

वहीं भगवान श्रीराम रिमोट के माध्यम से ही बुराइयों के प्रतीक रावण के पुतले और अन्य पुतलों का दहन करेंगे.

Tags: Dussehra Festival, Meerut news, Ravan Leela, Ravana Dahan, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here