Explainer: protest of farmers in Karnal is not good news for CM Khattar know why hrrm

0
22


चंडीगढ़. किसानों का एक बड़ा जत्था हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) के निर्वाचन क्षेत्र करनाल में मिनी सचिवालय के बाहर डेरा डाले हुए है. किसान उस आईएएस अधिकारी आयुष सिन्हा (Aayush Sinha) के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं, जिन्होंने पिछले महीने प्रदर्शन कर रहे किसानों के एक समूह पर पुलिस लाठीचार्ज करने का आदेश दिया था. आखिर इसके क्या निहितार्थ हैं, आइए जानते हैं सब कुछ.

सीआरपीसी की धारा 144 लागू करने, मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद करने, RAF की तैनाती और कई चेक पोस्ट और नाके लगाने जैसे सभी उपाय पुलिस और राज्य सरकार ने कि. इसके बाद भी किसान करनाल जिला मुख्यालय तक पहुंचने में कामयाब रहे और उन्होंने मिनी सचिवालय की घेराबंदी कर दी है. इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट में भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के हवाले से कहा गया है, “यह राज्य सरकार के लिए बहुत बड़ी शर्मिंदगी है. मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र को बंधक बनाकर रखा गया है? इससे पता चलता है कि सरकार नियंत्रण खो रही है. ऐसा लग रहा है कि सरकार अब बैकफुट पर है.”

आंदोलन को हल्के में लेना, खुद को धोखा देना है

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here