Farmer Celebrate completion of 1 year of Kisan Andolan at Delhi Border nodark – Kisan Andolan: किसान आंदोलन का एक साल पूरा, दिल्‍ली पुलिस की किसानों से अपील

0
13


नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार ने तीन नये कृषि कानूनों को वापस ले लिया है, लेकिन 26 नवंबर को किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के एक साल पूरा होने पर यूपी, हरियाणा और पंजाब के किसान दिल्‍ली बॉर्डर पर जमा हो रहे हैं. वहीं, किसान आंदोलन के एक साल पूरा होने पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि आज सभी बॉर्डरों पर लोग आएंगे और बातचीत करेंगे. अभी तो आंदोलन चल रहा है. केंद्र सरकार अगर बातचीत करेगी तो आगे का समाधान निकलेगा, वे बात ही नहीं करना चाहते हैं. बिना बात के कैसे समाधान निकलेगा. जबकि दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) किसानों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रख रही है.

किसानों द्वारा दिल्ली कूच पर दिल्ली पुलिस के पीआरओ चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि किसानों द्वारा 26 नवंबर को आवाहन दिया गया है, उस पर पुलिस की पूरी नजर है. इंतजाम किए गए हैं, जिससे कोई भी कानून को अपने हाथ में ना ले. हम सबसे अपील करते हैं कि कानून व्यवस्था को बनाएं रखें और पुलिस का सहयोग करें.

गाजीपुर और सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन जारी
केंद्र सरकार के तीन नये कृषि कानूनों को लेकर दिल्‍ली के गाजीपुर और सिघु बॉर्डर पर किसान पिछले एक साल से जमे हुए हैं. जबकि कृष‍ि कानूनों की वापसी की घोषणा के बाद से ही क‍िसान आंदोलन को कब समाप्‍त क‍िया जाएगा, इसको लेकर सवाल उठने लगे थे.

हालांकि इस मामले में पर क‍िसान नेता राकेश ट‍िकैत ने खुलकर इस मामले पर अपनी राय जाह‍िर की है. क‍िसान नेता ने बताया कि हमें नहीं पता कि सरकार बात कर रही है या नहीं कर रही है. सरकार जब हमसे बात करेगी तब हम बातचीत को आगे बढ़ाएंगे. उन्होंने कहा हमने केंद्र सरकार को भी पत्र लिख दिया है. यह पत्र भारत सरकार के नाम लिखा गया है. उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से पत्र का कोई जवाब अभी तक नहीं आया है. सरकार को बात मान लेनी चाहिए.

टिकैत ने अपनी बात रखते हुए यह भी साफ कर द‍िया क‍ि इस मामले के 26 जनवरी से पहले यह समाधान होने की उम्‍मीद है. हमें लगता है कि सरकार 26 जनवरी से पहले बात कर लेगी और सब कुछ निपट जाएगा.

Tags: Bjp government, Delhi police, Delhi Police Commissioner, Delhi Police Special Cell, Delhi Singhu Border, Delhi UP Ghazipur Border, Kisan Andolan, Rakesh Tikait, Rakesh Tikait big statement



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here