GHAZIABAD: इस डर से जागे पेट ओनर्स, 10 दिन में हुए कुत्तों के ताबड़तोड़ रजिस्ट्रेशन, आप भी करवाएं वरना…

0
28


रिपोर्ट – विशाल झा

गाजियाबाद. नियम यह है कि कुत्ते ने किसी को काटा या किसी पर हमला किया तो जवाबदेही कुत्ता पालक की होती है. शिकायत पर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी हो सकती है. गाज़ियाबाद ज़िले में पालतू कुत्तों के हमलों की घटनाएं वैसे भी कुछ दिनों से सुर्खियों में हैं. चाहे मामला संजय नगर में पिटबुल के अटैक का हो या फिर राजनगर एक्सटेंशन की चार्म्स कैसल सोसाइटी में बीगल प्रजाति के कुत्ते द्वारा बच्चों को काटने का, ऐसी घटनाएं थमते न देखकर नगर निगम ने नियम में सख्ती बरती, तो नतीजा यह हुआ कि कुत्ता पालने वालों की नींद खुली और बड़ी तादाद में रजिस्ट्रेशन होने लगे.

पालतू कुत्तों के हमलों के मामलों में चूंकि पेट ओनर्स की बड़ी लापरवाही सामने आई इसलिए गाज़ियाबाद नगर निगम ने ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाया. दरअसल ज़िले में ऐसे काफी सारे पालतू कुत्ते हैं, जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है. अब निगम की तरफ से पालतू कुत्तों के पंजीकरण को लेकर युद्धस्तर पर अभियान छेड़ दिया गया है. अब निगम ने सख्ती दिखाते हुए पंजीकरण न कराने वालों पर जुर्माना दोगुना यानी 5000 कर दिया है. इस जुर्माने के डर से पेट ऑनर्स अपनी नींद से जागे और रजिस्ट्रेशन करवाने में दिलचस्पी ले रहे हैं.

रजिस्ट्रेशन बढ़े तो बढ़ गई निगम की आमदनी

निगम की सख्ती का असर इस तरह देखने को मिला कि केवल 10 दिन के अंदर ही 583 लोगों ने पालतू कुत्तों का पंजीकरण करा लिया. News18 Local से बात करते हुए पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी डॉ. अनुज सिंह ने बताया कि अब पंजीकरण को लेकर जागरूकता बढ़ रही है. वहीं, बढ़ते पंजीकरण के साथ ही निगम की आमदनी भी बढ़ी है. कुत्तों के पंजीकरण से नगर निगम को बीते वित्तीय वर्ष में 7.18 लाख रुपये की आमदनी हुई थी जबकि इस साल अब तक 10.65 लाख रुपये का राजस्व मिल चुका है.

पहले क्यों नहीं हो रहे थे रजिस्ट्रेशन?

अप्रैल 2021 से नगर निगम ने कुत्तों का पंजीकरण कराना अनिवार्य किया था. तब कुत्ते का पंजीकरण शुल्क 1000 रुपये निर्धारित किया गया था. शुल्क ज्यादा होने की वजह से कुत्तों का पंजीकरण करने में लोगों ने दिलचस्पी नहीं दिखाई. अगस्त 2022 तक सिर्फ दो हज़ार लोगों ने ही अपने कुत्तों का पंजीकरण नगर निगम में कराया था.

आप जानते हैं कैसे करना है रजिस्ट्रेशन?

आप पालतू कुत्ते का पंजीकरण आसानी से एक ऐप के ज़रिये करवा सकते हैं. आपके मोबाइल फोन के प्लेस्टोर पर गाज़ियाबाद नगर निगम पेट रजिस्ट्रेशन ऐप है, इसे आप डाउनलोड करें. इसमें आपका नाम, नंबर, पता और कुछ डाक्यूमेंट्स सबूत के तौर पर मांगे जाएंगे और सिर्फ 200 रुपये की फीस देकर रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरी हो जाएगी. दिए गए लिंक पर जाकर आप यह ऐप डाउनलोड कर सकते हैं:
(https://play.google.com/store/apps/details?id=com.gnn.gmcpets)

Tags: Dogs, Ghaziabad News



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here