Ghaziabad news: हादसे में कट गया था सुदर्शन का हाथ, वक्त रहते किया ये काम तो बदल गए हालात

0
15


रिपोर्ट- विशाल झा

गाजियाबाद: अक्सर ऐसा देखा जाता ही कि, एक छोटी सी भूल या फिर गलती के कारण किसी हाथ तो किसी का पैर टूट या भंग हो जाता है. कई बार तो नौबत हाथ या पैर कटने की भी आ जाती है. ऐसे हादसों के बाद पीड़ित काफी निराश या फिर किसी तरह के सदमे में चला जाता है. जिंदगी देखने और जीने का नज़रिया भी बदल जाता है. पर सोचिए अगर किसी हादसे का शिकार व्यक्ति अपना कटा हुआ हाथ वापिस पा ले और पहले की तरह ही वो सारे काम करने लगे तो यकीनन ये उसके परिवार के साथ- साथ अन्य कई लोगों के लिए एक प्रेरणा बनेगी. हम आपके लिए गाज़ियाबाद में रहने वाले एक ऐसे ही व्यक्ति सुदर्शन की कहानी लाए हैं.

दरअसल, एक दिन फैक्ट्री में काम करने के दौरान सुदर्शन का हाथ मशीन में आ गया. जिसके कारण वो कलाई के पास से कट गया और मशीन में ही गोल-गोल घूमने लगा. ये वाकया होते ही सुदर्शन बेहोश हो गए. जिसके बाद उन्हें दिल्ली- एनसीआर (Delhi-Ncr ) के कई अस्पतालों में ले जाया गया. हालत इतनी ख़राब थी कि, सभी अस्पतालों के डॉक्टर हाथ खड़े कर रहे थे. तब किसी ने सुदर्शन के परिवार को आरएस मैत्री हेल्थकेयर के बारे में बताया. जिसके बाद परिजन बिना देरी किए अस्पताल पंहुचे, जहां प्लास्टिक सर्जरी (Plastic Surgery ) की टीम ने  त्वरित कार्रवाई करते हुए इस जटिल ऑपरेशन को शुरु कर दिया. इस ऑपरेशन के दौरान सुदर्शन के शरीर में संक्रमण को रोकना भी एक बड़ी चुनौती था. इसके बाद हड्डियों और कोमल ऊतकों ठीक करने और रक्त वाहिकाओं और नसों कों फिर से जोड़ना एक बड़ी चुनौती था. पर डॉक्टर के कठिन परिश्रम के बाद सुदर्शन की जान और हाथ दोनों बचा लिया गया.

ऐसे हादसों के बाद क्या करना चाहिए?
– यदि भविष्य में किसी के साथ ऐसी दुर्घटना होती है तो पीड़ित मरीज व उसके परिजनों कों घटना के बाद इस प्रक्रिया के तहत अपने कटे हुए अंग को अस्पताल लेकर आना चाहिए.
– एक नम साफ कपड़े में लपेटकर इसे एक पॉलीथीन बैग में रख कर आइस बॉक्स में रखकर अस्पताल लाना चाहिए.
– अंग कटने की घटना के शुरूआती छह घंटे काफी महत्वपूर्ण होते हैं और इन्हे गोल्डन ऑवर कहा जाता है, कोशिश करनी चाहिए मरीज को इस बीच ही अस्पताल ले जाया जाए.

Tags: Ghaziabad News, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here