Ghaziabad wedding hall: आपके घर में शादी है तो ये जानकारी बेहद जरूरी वरना…

0
19


रिपोर्ट- विशाल झा

गाजियाबाद: इस वर्ष वेडिंग सीजन (Wedding Season) में गाजियाबाद के बारात घर और बैंक्वेट हॉल (Banquet Hall) की संख्या में कमी देखने को मिलेगी जिसके कारण लोगों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. दरअसल गाजियाबाद नगर निगम (Ghaziabad Nagar Nigam ) द्वारा एक एलान के बाद बैंक्वेट हॉल के मालिक काफी निराश हैं. नगर निगम क्षेत्र में आने वाले 1200 से अधिक बैंक्वेट हॉल, बारात घर और मैरिज लॉन को अपने यहां कार्यक्रम के लिए नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र (Noc )लेना होगा. आखिर में ऐसा क्यों तो चलिए बताते हैं.

दरअसल, गाजियाबाद नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक सर्वे चलाया गया था. जिसमें विभिन्न स्थानों से निकलने वाले कूड़े को नगर निगम को देने के बजाय कबाड़ लेने वालों को देने की बात सामने आई थी. इस कारण से जिले में कूड़े की संख्या बढ़ जाती है. कई बार इन कूड़ों को चोरी-छिपे जलाया भी जाता है. जिससे प्रदूषण भी बढ़ता है. इस कारण से ही नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मिथिलेश सिंह ने बैंक्वेट हॉल और बारात घर मालिकों के लिए सख्त नियम लागू किए हैं. जिसके तहत अब एनओसी लेने के बाद भी बैंक्वेट हॉल का भी औचक निरीक्षण किया जा सकता है.

डॉ मिथिलेश ने News 18 Local को बताया कि, कभी नगर में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सर्वे किया था. इस दौरान सड़क पर शादी समारोह का कूड़ा मिला. ऐसे मामले आगे ना हो इसके लिए ही यह नियम लाए गए हैं. लोगों को वेस्ट मैनेजमेंट के साथ ड्राई और वेट कूड़े के प्रति जागरुक भी करना है. क्योंकि अभी वेडिंग सीजन चल रहा है. ऐसे में तो कूड़े की शिकायत कई गुना बढ़ जाती है. जिले में प्रदूषण का स्तर वैसे ही खतरनाक रहता है. लिहाजा हम किसी तरह का कोई रिस्क नहीं ले सकते.

Tags: Ghaziabad News, Ghaziabad News Today, Up news in hindi



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here