Government schools filled with water in haryana students forced to study under the shadow of fear hrrm

0
29


चरखी दादरी. कहने को तो चरखी दादी जिले के स्कूल का नाम संस्कृति मॉडल स्कूल (Sanskrit Model School) है. लेकिन यहां के हालात सामान्य स्कूलों से भी बदतर हैं. पानी से लबालब हुआ इस स्कूल में विद्यार्थियों को भय के साये में पढ़ने को मजबूर होना पड़ रहा है. हालांकि बार-बार शिक्षा अधिकारियों द्वारा प्रशासन व उच्चाधिकारियों को पत्र लिखे, कोई समाधान नहीं हुआ. हालातों को लेकर पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान (Satpal Sangwan) ने स्कूल का निरीक्षण किया और अधिकारियों को पानी निकासी बारे अधिकारियों से बात की और कहा कि वे समाधान बारे सीएम व डिप्टी सीएम को चिट्ठी लिखेंगे.

बता दें कि पिछले दिनों से लगातार हुई बारिश के कारण शहर का संस्कृति मॉडल स्कूल परिसर पानी से लबालब हो गया है. बारिश का पानी स्कूल के कमरों में भी कई फुट जमा होने से जुगाड़ के सहारे विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है. स्कूल में कई फुट पानी जमा होने के कारण विद्यार्थियों को पानी से होकर स्कूल पहुंच रहे हैं. पानी से निकलने के दौरान विद्यार्थियों व स्कूल स्टाफ सदस्यों को काफी परेशानियां हो रही हैं. हालांकि स्कूल प्रबंधन द्वारा कई बार प्रशासन व उच्चाधिकारियों को अवगत भी करवाया गया. बावजूद इसके पानी निकासी के कोई ठोस प्रबंध नहीं हुए.

पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने स्कूल पहुंचकर शिक्षा अधिकारियों संग निरीक्षण किया. साथ ही अधिकारियों से पानी निकासी के प्रबंधों बारे बात की. जिला शिक्षा अधिकारी जेपी सभ्रवाल ने पूर्व मंत्री को बताया कि कई बार प्रशासन व उच्चाधिकारियों को पत्र लिखे जा चुके हैं. हालात खराब हैं, अगर ऐसा ही रहा तो बीमारियां फैलने का खतरा बढ़ जाएगा.

पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने कहा कि इस साल स्कूल में कई फुट पानी जमा होता है. ऐसे में सरकार व अधिकारियों को पहले से ही पुख्ता प्रबंध करने चाहिए थे लेकिन अधिकारियों की नाकामी के कारण विद्यार्थियों व स्कूल स्टाफ को काफी परेशानियां हो रही हैं. सीएम को भी चाहिए कि वे मंत्रियों को यहां भेजे और हालातों को देखकर पुख्ता प्रबंध करें. हालांकि इस बारे अधिकारियों से बात हुई है. फिर भी पानी निकासी के पुख्ता प्रबंध नहीं हुए तो वे इस बारे में सीएम व डिप्टी सीएम को चिट्ठी लिखेंगे. साथ ही बड़ा कदम उठाया जाएगा और आंदोलन किया जा सकता है.

प्रशासन के प्रबंध नाकाम, इनेलो निकलवाएगी पानी

इनेलो के प्रदेश सचिव आनंद श्योराण ने भी पानी से लबालब स्कूल का निरीक्षण कर पुख्ता प्रबंधों को लेकर सरकार पर आरोप लगाए. कहा कि अगर प्रशासन ने तीन दिन में कोई ठोस कदम नहीं उठाए तो इनेलो अपने स्तर पर यहां पाइपें व मोटरें लगाकर पानी निकासी करवाएगी. क्योंकि पानी निकासी करवाने में सरकार की नाकामी सामने है. अगर जरूरत पड़ी तो इनेलो अपने स्तर पर आंदोलन भी करेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here