Gurudwara Pathar Sahib: गुरु नानक देव से टकराकर कैसे मोम बन गया था पत्थर, जानें गुरुद्वारा पत्थर साहिब से जुड़ी रोचक कहानी

0
20


गुरुद्वारा पत्थर साहिब एक प्रतिष्ठित स्थान है, जहां सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव जी ने एक राक्षस पर विजय प्राप्त की थी. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, जब गुरु नानक जी बैठकर ध्यान कर रहे थे, तभी एक दानव ने उनकी प्रार्थना में बाधा डालने के लिए एक बड़ा सा चट्टान उनके ऊपर फेंक दिया, लेकिन वह पत्थर गुरु नानक के शरीर को छूते ही नर्म मोम में बदल गया. हालांकि, गुरु नानक जी के शरीर का पिछला भाग पत्थर में धंस गया. आज भी पत्थर पर गुरु नानक जी के शरीर का निशान मौजूद है. Image-shutterstock



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here