Hariyali Teej 2022: इन चार बातों का रखें विशेष ध्यान, तो महिलाओं को मिलेगा अखंड सौभाग्य का फल

0
12


रिपोर्ट – शाश्वत सिंह

झांसी. हरियाली तीज का पर्व रविवार यानी 31 जुलाई को मनाया जा रहा है. हरियाली तीज श्रावण महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाया जाता है. भगवान शिव की उपासना करने वाले इस दिन को महादेव और मां पार्वती के मिलन के दिन के रूप में मनाते हैं. विष्णु की उपासना करने वाले भक्त इसे राधा-कृष्ण से जोड़ कर देखते हैं. इस दिन शादीशुदा स्त्रियां निर्जला व्रत रखती हैं और मां पार्वती की पूजा करके अपने सुहाग की लंबी उम्र की कामना करती हैं.

पंडित विष्णु गोलवलकर के अनुसार इस बार हरियाली तीज पर रवि योग बन रहा है. किसी भी व्रत में सूर्य की उपासना करना बहुत महत्वपूर्ण होता है. ऐसे में हरियाली तीज पर रवि योग बनना एक अद्भुत संयोग है. रवि योग 31 जुलाई दोपहर 2 बजकर 20 मिनट से लेकर 1 अगस्त की सुबह 6 बजे तक रहेगा. इस दौरान अगर सुहागिन महिलाएं पूजा करती हैं तो उन्हें अतिरिक्त लाभ मिलेगा.

जरूर करें ये चार काम
पंडित गोलवलकर ने बताया कि हरियाली तीज व्रत को सार्थक करने के लिए महिलाएं चार काम अवश्य करें. सबसे पहले तो निर्जला व्रत रखें. अगर स्वास्थ्य संबंधित कोई समस्या है तो उस हिसाब से ही व्रत करें. इस दिन दुल्हन की तरह तैयार होकर भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा करें. ऐसा करने से अखंड सौभाग्य का वरदान मिलता है. इस दिन सावन के गीत और लोकगीत अवश्य गाएं. इससे वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. सावन में हरियाली तीज पर झूला झूलने की परंपरा भी बहुत पुरानी है.

इन मंत्रों का करें जाप
हरियाली तीज पर पूरे दिन और विशेष तौर से भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा के दौरान, इन मंत्रों का जाप अवश्य करें. ॐ पार्वतीपतये नमः, ॐ शिवाय नमः, ॐ शांतिरुपाय नमः, ॐ जगतप्रतिष्ठाय नमः, ॐ जगदात्त्री नमः, ॐ उमाय नमः. इन मंत्रों के जाप से आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी.

Tags: Jhansi news, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here