Harsh Potan from Tharoch, martyred in Madhya Pradesh, people in mourning– News18 Hindi

0
22


शिमला. नागरिक उपमंडल के थरोच का रहने वाला वीर, निर्भीक व जांबाज बेटा हर्ष पोटन अल्पायु में वीरगति को प्राप्त हुआ है. डयूटी पर तैनाती के दौरान हर्ष का अल्पायु में निधन हो गया है. 31 दिसंबर 1993 को जन्मे हर्ष के सिर से मात्र 14 दिन की उम्र में मां की ममता छिन गई थी. तीन साल पहले पिता केवल राम पोटन ने भी संसार को त्याग दिया था.

चाचा हेतराम व चाची देवकू ने हर्ष की परवरिश की. मौत के आगोश में समाने से पहले हर्ष ने भाभी संधिरा को फोन कर परिवार का कुशलक्षेम पूछा था. हाल ही में सिपाही से हवलदार के पद पर प्रमोशन हासिल हुई थी. इसके लिए उसे अब ट्रेनिंग पर भी जाना था. मिलनसार व हंसमुख स्वभाव का हर्ष जब भी गांव आता था तो हरेक से जरूर मिलता था.

10 दिन पहले ही छुट्टी से लौटकर ड्यूटी पर मध्य प्रदेश गया था. हालांकि प्रशासन के पास सोमवार दोपहर तक भी हर्ष की शहादत से जुड़ी कोई सूचना उपलब्ध नहीं थी, लेकिन परिवार से मिली जानकारी के मुताबिक रविवार रात हर्ष के एक साथी का फोन भाभी के पास आया था कि वे सब लोग बैठकर फ्रूट खा रहे थे. इसी दौरान हर्ष बाथरूम में चला गया. जब वह काफी देर तक नहीं लौटा तो दरवाजा खोलने पर उसे बेसुध पाया. अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

पूर्व जिला परिषद सदस्य बीना पोटन ने बताया कि परिवार में फोन करने वाले ने अपना परिचय सूबेदार के तौर पर दिया था. उन्होंने बताया कि हर्ष के माता-पिता का निधन पहले ही हो चुका है. एक होनहार बेटे के निधन की आकस्मिक सूचना से समूचे इलाके में शोक की लहर है.

इसी बीच शिमला के उपायुक्त आदित्य सिंह नेगी और चौपाल के एसडीएम चेत सिंह ने कहा कि अभी तक कोई भी आधिकारिक सूचना प्राप्त नहीं हुई है. सूचना मिलने के बाद उचित कदम उठाए जाएंगे.

उधर, पूर्व शिक्षा मंत्री राधा रमण शास्त्री, चौपाल के विधायक बलबीर सिंह वर्मा, पूर्व विधायक सुभाष चंद मंगलेट, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संगठन महासचिव रजनीश किमटा, केंद्रीय बागवानी बोर्ड के निदेशक अमित सिंह चौहान ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि थरोच का रहने वाला बेटा देश की सीमाओं की रक्षा करते हुए शहीद हुआ है. वीर सपूत को हम नमन करते हैं. उन्होंने कहा कि वीर सपूत हर्ष पोटन ने सर्वोच्च बलिदान दिया है. इन सभी लोगों द्वारा शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदनाएं प्रकट की गई हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here