Haryana students between the ages of 15 and 18 will be given entry to school only after they are vaccinated against covid

0
19


नई दिल्ली. Education News: हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को कहा कि 15 से 18 वर्ष के जिन किशोरों का कोविड-19 टीकाकरण नहीं हुआ होगा, उन्हें स्कूल खुलने पर उनमें प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. राज्य में कोविड के मामलों में तेज गति से वृद्धि होने के चलते बीते एक पखवाड़े से स्कूल बंद हैं. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने राज्य में कोविड की वर्तमान स्थिति की समीक्षा के लिये अधिकारियों के साथ हुई बैठक में यह निर्देश दिया.

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, ”बैठक के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने 15 से 18 वर्ष की आयु के सभी किशोरों के अभिभावकों से अपने बच्चों का जल्द से जल्द टीकाकरण कराने का आग्रह किया क्योंकि जब स्कूल खुलेंगे तो टीकाकरण नहीं कराये बच्चों को स्कूलों में प्रवेश नहीं दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-
GATE 2022 Admit card: गेट परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड आज होगा जारी, सुबह 10 बजे से कर सकेंगे डाउनलोड
Sarkari Naukri 2022: पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर के पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, जल्द करें आवेदन, 60000 से अधिक होगी सैलरी

15 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स को लगना है टीका
बता दें कि हरियाणा में 15-18 वर्ष की आयु के बीच के 15 लाख से अधिक किशोर कोविड टीका लगवाने के पात्र हैं. हालांकि खास बात यह है कि इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण 3 जनवरी 2022 से शुरू हो चुका है. ऐसे में सभी अभिवावकों और स्कूल को ध्यान देना चाहिए कि 15 से 18 साल के सभी बच्चों को आवश्यक रूप से कोविड-19 का टीका लगाया जाए. जिससे बोर्ड परीक्षा के पहले तक सभी स्टूडेंट्स का टीकाकरण पूरा हो सके. (भाषा के इनपुट के साथ)

आपके शहर से (अंबाला)

Tags: Covid Vaccination, Education news, School education



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here