Himachal News: हिमाचल में BS-4 वाहनों के पंजीकरण में फर्जीवाड़ा, क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग की मर्सिडीज नूरपुर में रजिस्टर

0
18


वीरेंद्र सहवाग. (Sehwag Instagram)

Himachal News: कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री ने BS-4 वाहनों के रजिस्ट्रेशन में फर्जीवाड़े की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की है. टैक्स बचाने के लिए फर्जी रजिस्ट्रेशन कराने की खबर से मचा हड़कंप.

धर्मशाला. हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा (Kangra) जिले में वाहनों के पंजीकरण में फर्जीवाड़ा सामने आया है. यहां पर पालमपुर के बाद अब नूरपुर में भी वाहनों के पंजीकरण को लेकर फर्जीवाड़ा सामने आया है. यहां पर पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग की कीमती गाड़ी का आरएलए नूरपुर (RLA Nurpur) में पंजीकरण हुआ है. मामले को लेकर कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री ने भी सवाल उठाए हैं. नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने नूरपुर में पंजीकृत कीमती गाड़ी का फोटो इंटरनेट मीडिया पर शेयर किया. बताया जा रहा है कि कई प्रभावशाली लोगों के वाहन भी नूरपुर में पंजीकृत हुए हैं. जानकारी के अनुसार, 19 फरवरी 2020 को वीरेंद्र सहवाग की मर्सिडीज गाड़ी का पंजीकरण नूरपुर में हुआ. इसका नंबर (एचपी 38-एफ 8988) है. पिछले दिनों सरकार की एक टीम ने एसडीएम कार्यालय नूरपुर में इस संदर्भ में दस्तावेजों की जांच पड़ताल की. टैक्स बचाने के लिए किया पंजीकरणसूत्रों के अनुसार कीमती वाहनों का पंजीकरण टैक्स बचाने के लिए दलालों के माध्यम से हुआ है. कांग्रेस नेता मुकेश अग्निहोत्री ने आरोप लगाया कि कीमती वाहनों के नूरपुर व अन्य स्थानों पर हुए पंजीकरण में सरकारी खजाने को करोड़ों रुपये की चपत लगी है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने वीएस-4 वाहनों के पंजीकरण पर रोक लगाई थी, लेकिन दो-तीन करोड़ रुपये की गाड़ियों के मालिकों ने वीएस-4 के बजाय वीएस-6 के दस्तावेज लगाकर वाहनों को पंजीकृत करवाया. एक वाहन में कम से कम 25 से 30 लाख रुपये की टैक्स चोरी की गई है और आठ अप्रैल 2021 को अतिरिक्त आयुक्त परिवहन ने ऐसे सभी वाहनों के पंजीकरण रद करने के आदेश दिए हैं. अग्निहोत्री ने इस मामले की सीबीआई जांच करवाने की मांग की है. फिलहाल, मामले की पड़ताल की जा रही है.



<!–

–>

<!–

–>




Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here