Indian Railways: कोराेना वैक्सीनेशन को रेलवे ने चलायी वैक्सीन एक्सप्रेस, मंडुवाडीह से मऊ जं. के लिये चली

0
14


नई दिल्ली. रेल यात्रियों की सुरक्षा के साथ-साथ रेलवे (Railways) अपने कर्मचारियों को सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए लगातार कदम उठा रही है. कोरोना (Corona) संक्रमण से बचाव के लिए रेल कर्मियों का लगातार वैक्सीनेशन किया जा रहा है. रेल कर्मचारियों के लिए कोरोना वैक्सीन लगाए जाने के लिये अभियान चलाया जा रहा है. वहीं, कर्मचारियों को वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहित भी किया जा रहा है. पूर्वोत्तर रेलवे पर रेलवे सुरक्षा बल (Railway Protection Force) एवं चिकित्साकर्मियों सहित विभिन्न विभागों के 45 वर्ष से अधिक आयु के 57 प्रतिशत कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लगायी जा चुकी है. पूर्वोत्तर रेलवे पर वैक्सीनेशन हेेतु योग्य कुल 17,863 कर्मचारियों में से 10,216 को कोरोना की प्रथम वैक्सीन लगायी गयी. इनमें से 4008 रेलकर्मियों को कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज भी लगायी जा चुकी

लाइन कर्मचारियों का सुगमतापूर्वक टीकाकरण करने हेतु 24 अप्रैल, 2021 को रेलवे की मेडिकल वैन (एस.पी.ए.आर.एम.ई.) वैक्सीन एक्सप्रेस के रूप में मंडुवाडीह से बलिया, फेफना होकर मऊ जं. के लिये चलायी गयी. इस अभियान के दौरान मंडुवाडीह, वाराणसी, औंड़िहार, नन्दगंज, गाजीपुर सिटी, युसूफपुर, बलिया, फेफना, इंदारा, मऊ, दुल्लहपुर एवं सादात स्टेशनों पर वहां कार्यरत लाइन कर्मचारियों को वैक्सीन लगायी गयी. अभी तक पूर्वोत्तर रेलवे, मुख्यालय, गोरखपुर में वैक्सीनेशन के लिये कुल योग्य कर्मचारियों में से 52.3 प्रतिशत, वाराणसी मंडल में 74.6 प्रतिशत, लखनऊ एवं इज्जतनगर मंडलों में 52.7-52.7 प्रतिशत कर्मचारियों को कोरोना की वैक्सीन लगायी गयी. पूर्वोत्तर रेलवे पर वैक्सीनेशन का अभियान चलता रहेगा.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here