Jdu leader upendra kushwaha start shaurya yatra on samrat ashok and aurangjeb issue bramk

0
136


पटना. बिहार में सम्राट अशोक-औरंगजेब विवाद पर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही. सत्ताधारी पार्टी जेडीयू (JDU) ने इसे बड़ा मुद्दा बना लिया है. पहले लेखक के पद्म पुरस्कार वापस करने व भाजपा से निष्कासन को लेकर जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह (Lalan Singh) एवं ससंदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने ताबड़तोड़ पीएम मोदी (PM Narendra Modi) और भाजपा पर हमला बोला तो अब उपेन्द्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने इस राजनीति को आगे बढ़ाया है. सम्राट अशोक की तुलना औरंगजेब से किए जाने का मामला बिहार में पूरी तरह सियासी रंग में रंग चुका है.

जदयू ससंदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने शौर्य यात्रा निकाली है. जेडीयू नेता ने इस मामले में लेखक दया प्रकाश सिन्हा से पद्म श्री पुरस्कार वापस लेने और उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मांग करते हुए वैशाली गढ़ से पटना के कुम्हरार पार्क तक शौर्य यात्रा निकाली. सम्राट अशोक के अपमान के विरोध में उपेंद्र कुशवाहा वैशाली गढ़ पहुंचे. वैशाली गढ़ पर आए अपने सैकड़ों समर्थकों को उन्होंने शपथ दिलाई, इसके बाद शौर्य यात्रा की शुरुआत की.

उपेन्द्र कुशवाहा की इस यात्रा में पूरे बिहार से आये बड़ी संख्या में महात्मा फुले समता परिषद के नेता-कार्यकर्ता शामिल हुए. कुशवाहा ने एक बार फिर से केंद्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि आने वाले समय में कोई सम्राट अशोक का अपमान न करे. इसके लिए केंद्र सरकार लेखक दया प्रकाश सिन्हा पर अविलंब कार्रवाई करे. बता दें कि सम्राट अशोक की तुलना औरंगजेब से करने के बाद जेडीयू की राजनीति को देख बीजेपी ने भी बड़ी चाल चली है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने लेखक दया प्रकाश सिन्हा के खिलाफ राजधानी पटना के कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है.

भाजपा का मानना है कि लेखक के इस विचार से सामाजिक सौहार्द बिगड़ा है, साथ ही वे भाजपा के सदस्य नहीं हैं फिर भी विकिपिडिया में उन्हें भाजपा एक सेल से जुड़ा बताया जा रहा, ऐसे में पटना पुलिस को जांच के बाद कार्रवाई करनी चाहिए.

आपके शहर से (पटना)

Tags: Bihar News, Upendra kushwaha



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here