Jhansi: डाक विभाग की अनोखी पहल, चितेरी कला को लोगों तक पहुंचाने के लिए उठाया ये कदम

0
13


रिपोर्ट – शाश्वत सिंह

झांसी. बुंदेलखंड की कला को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है. विभिन्न विभागों द्वारा इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं. इस बीच डाक विभाग भी अपने सभी डाकघरों में बुंदेली चितेरी को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहा है. डाकघरों की दीवारों पर चितेरी उकेरी जा रही है. पायलट प्रोजेक्ट के तहत झांसी के मऊरानीपुर कस्बे के डाकघर और कालपी के डाकघर की दीवारों पर चितेरी पेंटिंग बनाई गई हैं. इस कदम से जनमानस तक चितेरी कला को पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है.

प्रवर डाक अधीक्षक बी के पांडेय ने बताया कि डाक विभाग द्वारा लोक कलाओं को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है. फिलहाल मऊरानीपुर और कालपी के डाकघरों में यह काम किया गया है. भविष्य में अन्य डाकघरों में भी इस प्रकार के कार्य करने की योजना है. उन्होंने कहा कि इस काम को करने के लिए भी क्षेत्रीय चित्रकारों और खास तौर से युवाओं को चुना गया है. इससे एक तरफ जहां बुंदेली कला को प्रोत्साहन मिल रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ युवा कलाकारों को रोजगार भी मिल रहा है.

सदियों पुरानी है कला
चितेरी बुंदेलखंड की पारंपरिक कला है. कई पीढ़ियों से बुंदेलखंड में चितेरी बनाने की प्रथा चली आ रही है. इन्हें बनाने वाले कलाकारों को चितेरे कहा जाता है. समय के साथ आधुनिकता की दौड़ में यह पारंपरिक कला पीछे छूट गई है. इसे बनाने वाले लोग भी बहुत कम रह गए हैं. इस प्रकार के कदमों से युवाओं को एक बार फिर चितेरी कला से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है.

Tags: Jhansi news, Post Office



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here