Joginder nagar jyoti missing case jyoti dead body cremated family demands justice hpvk

0
32


मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में जोगिंद्रनगर उपमंडल के गडूही गांव की 23 वर्षीय ज्योति के शरीर के बचे हुए अवशेषों का पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया. चिता को ज्योति के भाई दीपक ने मुखाग्नि दी. यह अंतिम संस्कार ज्योति के हराबाग स्थित श्मशान घाट में पुलिस के पहरे के बीच किया गया.

ज्योति के परिजनों ने एक बार फिर से अपनी बेटी की मौत को हत्या बताते हुए पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है. अपनी बेटी को इस स्थिति में अंतिम विदाई देते वक्त परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया. ज्योति का पति शिव कुमार धारा 306 के तहत दर्ज मुकदमे में अभी तक पुलिस की गिरफ्त में है.

ज्योति के परिजनों ने एक बार फिर से अपनी बेटी की मौत को हत्या बताते हुए पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है.

क्या बोले डीएसपी पधर
डीएसपी पधर लोकेंद्र नेगी ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया गया था, जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है. पुलिस मामले की हर पहलू से बारिकी से जांच पड़ताल कर रही है. फारेंसिक रिपोर्ट आने के बाद ही यह पता चल पाएगा कि मौत की असली वजह क्या थी?
एक माह बाद मिली ज्योति
बता दें कि 7 सितंबर को ज्योति का क्षत-विक्षत शव उसके घर के पीछे वाले जंगल में एक महीने बाद मिला था. उसके अगले दिन ज्योति का सिर बरामद हुआ था. उसके बाद पुलिस और फारेंसिक टीम ने सभी अंगों को एकत्रित करके टांडा मेडिकल कालेज में उनका पोस्टमार्टम किया और आज शव परिजनों के हवाले किया गया जिसके बाद अंतिम संस्कार हो पाया. ज्योति आठ अगस्त से लापता थी. घर से करीब 8 किमी दूर जंगल से उसका शव मिला है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here