Kanwar Yatra: यूपी में अब कांवड़ मार्ग पर शिव भक्तों को नहीं दिखेगी मीट व शराब की दुकानें, आदेश जारी

0
30


मेरठ: सावन की शुरुआत कल यानी 14 जुलाई से हो रही है और अब कल से ही पश्चिम उत्तर प्रदेश में शिव भक्तों का सैलाब सड़कों पर उमड़ने लगेगा. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ कह दिया है कि कांवड़ मार्ग पर कोई भी शराब और मीट की दुकान नहीं लगेगी. मुख्यमंत्री के रिएक्शन के बाद पश्चिम उत्तर प्रदेश में प्रशासन एक्शन में नजर आ रहा है. मेरठ की अगर बात करें तो कांवड़ मार्ग पर पड़ने वाली शराब की दुकानों को अस्थाई तौर पर हटाने का आदेश दे दिया गया है. वहीं, मीट की दुकानों को कावड़ यात्रा तक बंद कराने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. इस आदेश के बाद मेरठ में शराब की दुकानों को ढकने का काम शुरू हो गया है और मीट की दुकानों पर भी त्रिपाल लगा दिया गया है, ताकि कावड़ियों को ये दुकानें नजर ही ना आए.

दरअलस, पश्चिम उत्तर प्रदेश में मेरठ की सड़कों पर कावड़ियों का सैलाब उमड़ने जा रहा है. अगले कुछ दिन में बम बम और बोल बम के जयकारों के साथ शिवभक्त अपने कांधे पर कांवड़ लेकर अपनी मंजिल की ओर बढ़ेंगे. इस रास्ते पर केवल भगवा ही भगवा नजर आएगा, क्योंकि ट्रैफिक डायवर्ट कर दिया जाएगा और इसी मार्ग पर कावड़िए भगवान शिव के जयकारे लगाते हुए अपनी मंजिल की ओर बढ़ेंगे. पश्चिम उत्तर प्रदेश में लाखों की संख्या में शिव भक्त कांवड़ लेकर आएंगे. वैसे भी कोरोना के चलते 2 साल बाद कावड़ यात्रा की अनुमति मिली है तो शिव भक्तों में और भी ज्यादा उत्साह नजर आएगा.

प्रशासन का अनुमान है कि पहले से ज्यादा संख्या में शिव भक्त कावड़ लेकर आएंगे. ऐसे में तैयारी भी पुख्ता होनी चाहिए. जिलाधिकारी मेरठ दीपक मीणा की मानें तो शराब की दुकानों की चौहद्दी बदलने और मीट की दुकानों को बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. जो शराब और मीट की दुकानें कावड़ मार्ग पर हैं, उन्हें त्रिपाल और काली पन्नी से ढंक दिया जाएगा, ताकि शिव भक्तों की भी धार्मिक भावना को ठेस ना पहुंचे.

वहीं शराब और मीट की दुकान चलाने वाले लोग भी कावड़ यात्रा को लेकर उत्साहित हैं. उनकी मानें तो नुकसान जरूर होगा, लेकिन बाबा की भक्ति के आगे वह नुकसान सहन कर लेंगे. भगवान भोलेनाथ कृपा करेंगे और उनका धंधा कावड़ यात्रा के बाद अच्छा चलेगा. बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में कावड़ यात्रा को लेकर कोई भी कोताही न बरतने के निर्देश दिए हैं. कांवड़ियों की सुरक्षा से लेकर उनकी धार्मिक भावना आहत ना हो इसका ख्याल प्रशासन को रखने के सख्त निर्देश दिए गए हैं. जिसको लेकर अब वेस्ट यूपी में एक्शन नजर आ रहा है.

Tags: Meerut news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here