Lucknow Hanuman Setu: चिट्ठी भेजने पर भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं ‘ग्रेजुएट हनुमान’, जानें सबकुछ

0
17


रिपोर्ट: अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ में लोगों की अटूट आस्था का केंद्र हनुमान सेतु ऐसा चमत्कारी धाम है जहां से कोई खाली नहीं जाता. अंजनी पुत्र हनुमान को चिट्ठी वाले बाबा और ‘ग्रेजुएट हनुमान’ भी कहा जाता है. हालांकि बहुत ही कम लोग इसके पीछे की हकीकत को जानते हैं. तो चलिए आज आप को बताते हैं क्या है पूरी कहानी. दरअसल देश और विदेशों से श्रद्धालु अपनी मनोकामनाएं चिट्ठी पर लिखकर मंदिर के पते पर भेजते हैं. हर साल करीब तीन लाख चिट्ठियां भक्त बाबा के दरबार में भेजते हैं. वहीं, जब रात 10 बजे के बाद मंदिर के पट बंद हो जाते हैं, तो पुजारी हनुमान जी के श्री चरणों में बैठकर सभी चिट्ठियों को पढ़ कर उनको सुनाते भी हैं.

हनुमान सेतु के पुजारी का कहना है कि प्रभु सभी लोगों की मुरादें पूरी करके उनके कष्ट हर लेते हैं. उधर जब श्रद्धालुओं की मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं तब वे हनुमान सेतु में आकर दर्शन-पूजन भी करते हैं. भक्त खुद पुजारी को बताते हैं कि उन्होंने हनुमान जी को चिट्ठी भेजी थीं.

दान पात्र और प्रभु के चरणों में चढ़ाते हैं चिट्ठियां
हनुमान सेतु में हर साल देश के कोने-कोने और विदेशों से मिलाकर करीब तीन लाख चिट्ठियां तो आती ही हैं. साथ ही कुछ भक्त खुद ही हनुमान जी के चरणों में अपना पत्र रख कर चले जाते हैं, तो कुछ लोग दान पेटी में डाल देतें हैं. वहीं विदेशों में बैठे लोग चिट्ठियों को डाक विभाग के जरिए यहां पर भिजवाते हैं. इन चिट्ठियों को हनुमान जी को सुनाने के करीब 2 से 3 महीने बाद सभी चिट्ठियों को मिट्टी में दबा दिया जाता है.

मुराद पूरी होने पर करवाते हैं श्रृंगार
हनुमान सेतु के पुजारियों ने बताया कि जब भक्तों की मुरादें पूरी हो जाती हैं तो वह हनुमान सेतु आकर तीन तरह का श्रृंगार करवाते हैं.पहला श्रृंगार पुष्प का होता है,उसमें हनुमान जी समेत पूरे मंदिर को पुष्पों से सजाया जाता है. दूसरा वस्त्र श्रृंगार होता है, इसमें हनुमान जी को वस्त्र अर्पित किए जाते हैं. इसके अलावा लाइट श्रृंगार में हनुमान जी के पूरे मंदिर को लाइटों से सजाया जाता है. इसके लिए मंदिर प्रबंधन की ओर से 6000 रुपये की रसीद कटती है. वर्तमान में तीन माह तक बुकिंग चल रही है. लोगों ने श्रृंगार कराने के लिए पहले से ही तारीख बुक कर रखी है.

 इस वक्त होती है आरती
हनुमान सेतु में आरती का समय सुबह 6 बजे और शाम को 7 बजे है. हनुमान जी के अलावा इस मंदिर में शिव जी, राम दरबार,दुर्गा दरबार,गायत्री मां, सरस्वती जी, गणेश जी और नीम करोली बाबा विराजमान हैं, जिनकी भक्त श्रद्धा भक्ति से पूजा करते हैं.

ऐसे पहुंचे हनुमान सेतु
सबसे पहले आपको हजरतगंज चौराहे से परिवर्तन चौक चौराहे की ओर बढ़ना होगा. परिवर्तन चौक चौराहे से लखनऊ यूनिवर्सिटी रोड पर सीधे आना होगा. लखनऊ यूनिवर्सिटी के प्रमुख द्वार के ठीक सामने प्रसिद्ध हनुमान सेतु मंदिर स्थापित है.

Tags: Hanuman Temple, Lord Hanuman, Lucknow news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here