Meerut: क्रांतिकारियों की काली पल्टन से कांपती थी अंग्रेजी हुकूमत, चर्चा में रहा था विक्टोरिया पार्क

0
42


विशाल भटनागर

मेरठ. पश्चिम उत्तर प्रदेश मेरठ क्रांति की धरा है, बलिदान की भूमि है, जिससे हर कोई परिचित है. प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का उद्घोष मेरठ की क्रांति से हुआ था. औघड़नाथ मंदिर जिसे पहले काली पल्टन कहा जाता था. वहां से 10 मई 1857 को इसकी शुरुआत हुई थी. धीरे-धीरे यह देश भर में फैल गई. प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का सबसे अहम स्थल मेरठ के विक्टोरिया पार्क ( Victoria park ) को भी माना जाता है. आइए जानते हैं कि क्या है विक्टोरिया पार्क की क्रांतिकारी गाथा ?

मेरठ की धरती से 85 क्रांतिकारियों ने क्रांति की शुरुआत कर अंग्रेजों की दमनकारी नीतियों के खिलाफ विद्रोह किया था. अंग्रेजों की इनकी जब भनक लगी तो सभी 85 क्रांतिकारियों को पकड़ लिया और सभी को कोतवाली सदर से विक्टोरिया पार्क जेल में शिफ्ट कर दिया. इधर आजादी के दीवानों को जैसे ही इस बात की खबर मिली तो उनका अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ खून खौल उठा. क्रांति की ज्वाला और धधक गई. बड़ी संख्या में क्रांतिकारियों ने विक्टोरिया पार्क जेल पर हमला कर 85 सैनिकों के साथ-साथ 839 अन्य क्रांतिकारियों को भी वहां से आजाद करा लिया.

स्मारक पर लिखे हैं क्रांतिकारियों के नाम
जिन 85 क्रांतिकारियों को अंग्रेजों द्वारा बंदी बनाकर विक्टोरिया पार्क जेल में शिफ्ट किया गया था. उन सभी क्रांतिकारियों के नाम विक्टोरिया पार्क पर आज भी लिखे हुए हैं. इतना ही नहीं किस प्रकार संग्राम हुआ था, उसको भी चित्रों के माध्यम से दर्शाया गया है. इतिहासों में इस बात का भी उल्लेख है कि तत्कालीन अंग्रेजी मेजर विलियम्स द्वारा भी एक जांच कमेटी बनाई थी. जांच कमेटी ने यही रिपोर्ट सौंपी थी. उन 85 क्रांतिकारियों द्वारा ही क्रांति का उद्घोष को शुरू किया था, जो धीरे-धीरे देशभर में फैला.

विक्टोरिया पार्क है अब भामाशाह पार्क
रानी विक्टोरिया के नाम पर ही इस पार्क का नाम रखा गया था. अंग्रेजों के समय विक्टोरिया पार्क अपने आप में एक विशेष स्थान रखता था, मौजूदा समय में विक्टोरिया पार्क अब भामाशाह पार्क के नाम से भी जाना जाता है. यहां बड़े-बड़े मैचों का भी आयोजन होता है. इसी साल 10 मई को आयोजित एक कार्यक्रम में विक्टोरिया पार्क में ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने क्रांतिकारियों को नमन किया था.

Tags: 1857 Kranti, Meerut news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here