MEERUT: हस्तिनापुर सेंचुरी में शुरू हुई प्रवासी परिंदों की चहल-पहल, पर्यटन से पहले लेनी होगी परमिशन

0
17


रिपोर्ट : विशाल भटनागर

मेरठ. अगर आप पंछी प्रेमी है और विभिन्न प्रजातियों के पंछियों को देखना चाहते हैं, तो आपके लिए सुनहरा अवसर है. नवंबर से फरवरी तक हस्तिनापुर सेंचुरी में आप प्रवासी पक्षियों का जमावड़ा देख पाएंगे. जी हां, दीपावली के बाद हस्तिनापुर सेंचुरी विदेशी पक्षियों से गुलजार होना शुरू हो जाता है. कुछ इसी तरह का नजारा अब भी देखने को मिल रहा है. यहां विदेशी पक्षियों का आना शुरू हो गया है. तरह-तरह के बत्तख और तितलियां देखने को मिल रहे हैं.

गौरतलब है कि हस्तिनापुर सेंचुरी का मखदुमपुर घाट हो, भीमकुंड हो या अन्य – सब जगहों पर विदेशी पक्षी दिखने लगे हैं. फिलहाल हस्तिनापुर सेंचुरी में 50 तरह के विदेश पक्षी पहुंच चुके हैं. इनके आने का सिलसिला जारी है. देशी पक्षियों की भी भरमार है. फिलहाल यहां स्पून बिल, सारस क्रेन, इंडियन स्कीमर, ब्लेक नेक्ड, स्ट्रोक, यूरोशियन कर्लीव, सुर्खाब सहित करीब 50 प्रजातियों के पक्षियों का जमावड़ा देखा जा सकता है.

फरवरी तक रहता है बसेरा

News18 Local से डीएफओ राजेश कुमार ने बताया कि फरवरी तक यहां पर विदेशी पक्षियों का आना लगा रहता है. विदेशी पक्षी भी यहां अठखेलियां करते नजर आते हैं. जो कि काफी अच्छा लगा रहता है. ऐसे में जो भी पक्षी प्रेमी यहां घूमना चाहते हैं, वह अभी घूम सकते हैं. लेकिन उसके लिए पहले संबंधित रेंजर के अधिकारियों से परमिशन लेना आवश्यक है.

पर्यटकों की लगती है भीड़

बताते चलें कि हस्तिनापुर के चाहे मखदुमपुर घाट हो भीमकुंड हो या अन्य ऐसे इलाके यहां साइबेरिया, चीन, पूर्वी यूरोप के पक्षी हजारों किलोमीटर की यात्रा कर पहुंचते हैं. यहां 1 से लेकर 5 फीट तक के विदेशी पक्षी देखने को मिलते हैं. गौरतलब है कि पक्षियों को देखने के लिए मेरठ ही नहीं बल्कि आसपास के जिलों के पक्षी प्रेमी भी बड़ी संख्या में हस्तिनापुर सेंचुरी में पहुंचते हैं. वन विभाग द्वारा फरवरी माह में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं.

Tags: Meerut news, Migrants, UP news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here