MIRZAPUR: जल जीवन मिशन योजना में लापरवाही, खराब सड़क से आने जाने को मजबूर ग्रामीण

0
13


मंगला तिवारी/मिर्जापुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवम्बर 2020 में जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर नल योजना का शुभारंभ किया था. इस योजना के तहत, केंद्र सरकार का लक्ष्य सभी घरों में पाइप जलापूर्ति सुनिश्चित करना है, ताकि प्रत्येक ग्रामीण परिवार को नियमित और दीर्घकालिक आधार पर निर्धारित गुणवत्ता का शुद्ध पीने का पानी मिल सके. मिर्जापुर में इस योजना के पूर्ण होने से पहले ही इसमें लापरवाही सामने आ रही है. इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक गांव में ग्रामीण परिवारों को स्वच्छ पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए महिलाओं को पानी की गुणवत्ता का परीक्षण करने के लिए टेस्ट किट दिया गया था. महिलाओं के पास रखे टेस्ट किट अब एक्सपायर हो गए हैं, हालांकि अभी जांच पूर्ण नहीं हुई है.

सिटी ब्लॉक के भोड़सर ग्राम सभा में रेखा देवी और पार्वती देवी को पानी टेस्ट करने की जिम्मेदारी मिली थी. रेखा देवी ने बताया कि हम लोगों ने कुछ घरों में पानी का टेस्ट किया है. जिसका भुगतान नहीं किया गया. इस वजह से टेस्ट रोक दिया. अभी पूरे गांव के नल और तालाब का पानी टेस्ट नहीं हुआ है. वहीं पार्वती देवी ने कहा कि हमें घर- घर जाकर वाटर टेस्टिंग का काम मिला था. हमने कुछ घरों का किया. लेकिन भुगतान नहीं मिलने से हमने टेस्टिंग बंद कर दिया. हम लोग अपने भुगतान के लिए जब बात करते हैं तो कोई अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है.

खराब सड़क से आने जाने को मजबूर ग्रामीण
मिर्जापुर जनपद में जलजीवन मिशन योजना के वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है. योजना के अंतर्गत गड्ढे खोदकर पाइप लाइन डाली जा रही है. लेकिन कहीं तीन महीने तो कहीं साल भर से गढ्ढा छोड़ दिया गया है, जो ग्रामीणों के लिए मुसीबत बन गया है. गांव में आने जाने वाले लोग गड्ढों में गिरकर चोटिल हो रहे हैं.

सिटी ब्लॉक के ग्राम सभा दुबरा पहाड़ी के प्रधान जय शंकर बिंद ने बताया कि सड़क खोद कर ऐसे ही छोड़ दिया गया है. सही नहीं किया जा रहा है. बरसात में गांव वालों के लिए गड्ढा मुसीबत बन गया था. लेकिन इसके बावजूद भी अभी तक सड़क नहीं बनी. जब ठेकेदार या जिम्मेदार अधिकारी से इसकी बात की जाती है तो केवल आश्वासन मिलता है.

क्या बोले जिम्मेदार अधिकारी
मिर्जापुर में हर घर नल योजना के तहत पानी पहुंचाए जाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है. लेकिन कई जगह कार्य में लापरवाही भी देखने को मिल रही है. इसपर जल निगम के अधिशाषी अभियन्ता संदीप सिंह ने कहा कि महिलाओं और संस्थानों से बात कर उसे सही करा दिया जाएगा. जो टेस्ट किया गया है उसे भी अपलोड करा दिया जाएगा. वहीं सड़कों में गड्ढे को लेकर कहा कि कहीं शिकायत मिलती है तो उसको पूरा कराया जाता है. काम चल रहा है टेस्टिंग होनी है. इसलिए कई जगह भी गड्ढे तो पाट दिए गए हैं मगर सड़क नहीं बनाई गई है. उसे भी बनवा दिया जाएगा.

21 लाख से ज्यादा ग्रामीणों को होगा फायदा
जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर जल परियोजना सेमिर्जापुर में 743 राजस्व गांवों को लाभ मिलेगा. जिससे 21 लाख 87 हजार ग्रामीणों को फायदा होने की उम्मीद हैं. मिर्जापुर में नौ जगहों पर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाना है. जिसके माध्यम से लोगों के घरों तक शुद्ध पानी पहुंचना है. जल निगम के अधिशाषी अभियन्ता संदीप सिंह ने बताया किमिर्जापुर जिले में 9 परियोजनाओं के अंतर्गत साढ़े तीन लाख घरों को कनेक्शन दिया जाना है. जिसमें अभी हम लोग दो टाइप के कनेक्शन कर रहे हैं. एकFunctional household tap connection (fhtc) और एकhousehold tap connection (htc)कर रहे हैं. यहां पर दो प्रकार की स्कीम है एक ग्राउंड सोर्स पानी लिया जाएगा और एक सरफेस सोर्स से लिया जाएगा जैसे जलाशय और डैम हैं. ग्राउंड सोर्स में टोटल 140 स्कीमें और सर्फेस सोर्स में 9 स्कीमें है. सर्फेस सोर्स की योजनाएं कंप्लीट हो जाने परhousehold tap connection (htc) को Functional household tap connection (fhtc) में परिवर्तित कर दिया जाएगा.

Tags: Mirzapur news, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here