Moradabad: महायोजना 2031 पर उठाए गए सवाल, MDA को लोगों ने भेजें आपत्ति और सुझाव

0
24


पीयूष शर्मा/मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के विकास के लिए मुरादाबाद विकास प्राधिकरण ने एक करोड़ की निविदाएं निकाली थी. जिनसे नया मुरादाबाद सहित कई स्थानों पर विकास कार्य की बात कही गई थी. लेकिन अब महायोजना 2031 के प्रारूप में दर्शाए गए लैंड यूज को लेकर 410 आपत्तियां उठाई गई हैं. आपत्तियों पर सुनवाई के लिए शासन के निर्देश अनुसार 8 सदस्यों की टीम का गठन किया गया है जो निर्धारित तारीख पर कुल 5 राउंड में सुनवाई करेंगी.

न्यूज 18 लोकल से खास बातचीत करते हुए एमडी उपाध्यक्ष शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि 1 नवंबर से 5 नवंबर तक प्राधिकरण कार्यालय में कमेटी द्वारा सुनवाई की जाएगी. समस्त आपत्तियों के विवरण आपत्ति कर्ताओं के नाम एवं आपत्ति संख्या सहित सुनवाई की तारीख के साथ आयुक्त कार्यालय डीएम कार्यालय के अलावा प्राधिकरण कार्यालय के नोटिस बोर्ड पर देखे जा सकेंगे.

मंगाए गए थे सुझाव
महायोजना को लेकर आपत्ति और सुझाव के पहले चरण में 15 मार्च से 7 मई तक कुल 285 आपत्ति और सुझाव मुरादाबाद विकास प्राधिकरण कार्यालय पहुंचे थे. दूसरे चरण में 11 अक्टूबर से 20 अक्टूबर तक 125 आपत्ति और सुझाव पहुंचे थे. कुल आपत्ति और सुझाव 410 प्राधिकरण कार्यालय पहुंचे हैं. इनकी सुनवाई प्राधिकरण कार्यालय में 1 से 5 नवंबर तक की जाएगी. एमडी उपाध्यक्ष ने बताया कि इन सभी का समस्त विवरण प्राधिकरण की वेबसाइट पर भी देख सकते हैं.

शहर के 410 लोगों ने सुझाव दिए
मुरादाबाद में अगले 10 साल के लिए शहर के विकास को लेकर एमडीए द्वारा तैयार किए गए प्रस्तावित मास्टर प्लान 2031 पर सवाल उठाए गए हैं. शहर के 410 लोगों ने अपनी आपत्ति और सुझाव दिए हैं. इनमें अधिकांश आपत्तियों में लोगों ने अपने क्षेत्र के उपयोग को औद्योगिक व्यावसायिक और बाजार स्ट्रीट करने की मांग की है. रामगंगा नदी तट पर स्थित साबरमती रिवर फ्रंट और गोमती रिवरफ्रंट के रूप में भी विकसित करने को लेकर आपत्ति और सुझाव दिए गए हैं.

मुरादाबाद इंडस्ट्रियल फैक्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष किशनलाल कत्याल ने कांठ रोड स्थित ग्राम मुकररबपुर मुस्तकीम की भूमि का उपयोग बाजार स्ट्रीट एवं दीनदयाल नगर निवासी किरण धमीजा ने ग्राम छावनी में मौजूद अपनी भूमि को व्यवसायिक किए जाने का सुझाव दिया है. तनवीर अहमद ने रामपुर रोड स्थित एकता विहार कॉलोनी के आसपास के क्षेत्र को औद्योगिक घोषित करने की मांग की है.

Tags: Moradabad News, Uttar pradesh news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here