Myanmar army killed by 30 people including children in kaya province burnt bodies report

0
162


प्रुसो टाउन. म्यांमार (Myanmar) में सैन्‍य तख्‍तापलट (Military Coup) के बाद से जारी हिंसा के बीच अब खबर आई है कि म्यांमार सरकार (Myanmar Government) ने काया प्रांत (Kaya Province) में महिलाओं और बच्चों समेत 30 से ज्यादा लोगों को गोलियों से भून दिया और फिर उनके शव जला दिए. यह जानकारी स्थानीय निवासियों, मानवाधिकार समूह और मीडिया रिपोर्टों के जरिए सामने आई है. करेनी मानवाधिकार समूह की ओर से जानकारी दी गई है कि उनहें आंतरिक रूप से विस्‍थापित लोगों के जले हुए शव बरामद हुए हैं जो प्रुसो शहर के पास एक गांव में सोना द्वारा मारे गए हैं.

मानिवाधिकार समूह की ओर से फेसबुक पोस्‍ट के जरिए जानकारी दी गई है कि 30 से ज्‍यादा लोगों में बुजुर्ग, महिलाएं और बच्‍चे शामिल हैं. इस तरह से लोगों को मौत के घाट उतारने और शवों को जलाने की घटना सामने आने के बाद हर कोई म्यांमार सेना द्वारा किए गए इस अमानवीय और नृशंस हत्याकांड की निंदा कर रहा है. हालांकि देश की सरकारी मीडिया ने म्‍यांमार की सेना के हवाले से जानकारी दी है कि सेना का गांव में विरोधी सशस्‍त्र बलों के साथ संघर्ष हुआ, जिसमें कुछ लोगों की जान चली गई.

सरकारी मीडिया के मुताबिक गांव में मौजूद आतंकवादियों ने सेना पर गोली चलाई, जिसके जवाब में सेना को भी फायरिंग करनी पड़ी. बताया जा रहा है कि आतंकी सात वाहनों में सवार थे और जब सेना ने उन्‍हें रोकने की कोशिश की तो वह फायरिंग कर भागने की कोशिश करने लगे. हालांकि इस पूरे मामले में सेना की ओर से कोई टिप्‍पणी नहीं की गई है. मानवाधिकार समूह और स्थानीय मीडिया द्वारा साझा की गई तस्वीरों में जले हुए ट्रकों पर शवों के जले हुए अवशेष दिखाई दे रहे हैं. मानवाधिकार समूह ने बताया कि जब हम घटनास्‍थल पर पहुंचे तो हमने देखा कि सभी शव अलग-अलग आकार के थे, जिसमें बच्‍चे, महिलाएं और बूढ़े भी शामिल थे.

इसे भी पढ़ें :- म्यांमार में सेना ने पार की क्रूरता की हदें, हत्या के बाद ग्रामीणों की लाशों को जलाया

म्‍यांमार में पहले भी ऐसी खबरें आती रही हैं
म्‍यांमार में सेना की ओर से की गई नृशंस हत्याकांड की खबरें पहले भी आती रही हैं. कुछ दिन पहले ही ऐसी खबर आई थी कि म्‍यांमार के उत्‍तर-पश्चिम हिस्‍से में सैनिकों ने सेना के काफिले पर हुए हमले के प्रतिशोध में एक गांव में छापा मारा फिर कुछ लोगों को पकड़कर उनके हाथ और पैर बांधे. इसके बाद उन्‍हें जिंदा जला दिया. सगाइंग क्षेत्र के डोने ताव गांव में जले हुए शवों की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुईं थीं.

Tags: Myanmar, Myanmar coup, Myanmar military coup, Violence



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here