Nainital: 70 साल के रिटायर्ड कर्नल का जज्बा, आगरा में 1600 फीट की ऊंचाई से की पैराजंपिंग

0
9


नैनीताल. उत्तराखंड के नैनीताल में रहनेवाले 70 वर्षीय रिटायर्ड कर्नल डॉ गिरिजा शंकर मुनगली ने कुछ ऐसा काम किया है, जिसकी पूरे देश में सराहना हो रही है. उन्होंने इस उम्र में 16 हजार फीट की ऊंचाई से पैराजंपिंग कर सबको हैरत में डाल दिया. डॉ गिरिजा शंकर मुनगली वर्तमान में महाराष्ट्र के पुणे में रहते हैं.

रिटायर्ड कर्नल डॉ गिरिजा शंकर फिलवक्त एशियाई फुटबॉल परिसंघ के टास्क फोर्स के सदस्य हैं. 10 नवंबर को वायुसेना के पैराशूट ब्रिगेड महोत्सव के री-यूनियन के दौरान आगरा में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. उस कार्यक्रम में 36 लोगों ने 16 हजार फीट की ऊंचाई से पैराजंपिंग में हिस्सा लिया था. इनमें रिटायर्ड कर्नल डॉ गिरिजा शंकर सबसे उम्रदराज थे.

सेवानिवृत्त कर्नल डॉ मुनगली ने इस बारे में कहा कि एक बार प्लेन से कूद जाने के बाद कुछ भी तब तक ठीक नहीं होता है, जब तक आपका पैराशूट पूरी तरह से खुल नहीं जाता है. पैराजंपिंग कर वह काफी खुश हैं.

डॉ गिरिजा शंकर मुनगली साल 2002 में भारतीय सेना से कर्नल के पद से सेवानिवृत्त हुए थे. अपने कार्यकाल के दौरान वह सेना के साहसिक विभाग के प्रमुख थे. सेना के कई मिशन को पूरा करने में उनकी महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है. भारत और बांग्लादेश के बीच संयुक्त राफ्टिंग अभियान में भी उन्होंने हिस्सा लिया था. बतौर साहसिक विभाग प्रमुख उन्होंने हिमालय की कई ऊंची चोटियों पर चढ़ाई भी की थी.

रिटायर्ड कर्नल डॉ गिरिजा शंकर मुनगली बीते 25 वर्ष से पुणे में रह रहे हैं. उनके बच्चे विदेश में रहते हैं. उनके दो भाई हैं सतीश और अनिल, जो वर्तमान में अपने परिवार के साथ नैनीताल में ही रहते हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

FIRST PUBLISHED : November 15, 2022, 15:19 IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here