Naxals kidnapped father and son at midnight from home bramk

0
247


लखीसराय. बिहार के नक्सल प्रभावित जिले लखीसराय में नक्सलियों ने बड़ी घटना (Naxal Attack) को अंजाम दिया है. मामला चानन थाना क्षेत्र के महुलिया गांव से जुड़ा है जहां नक्सलियों ने पिता-पुत्र को अगवा कर लिया, जिसके बाद से इलाके में दहशत का माहौल है. जानकारी के मुताबिक 25 जनवरी की देर रात पच्चीस से तीस की संख्या में (Lakhisarai Naxal News) रहे हथियार से लैस नक्सली ग्रामीण चिकित्सक रामजी यादव के घर पर आ धमके और दरवाजा खटखटाया. इसके बाद आवाज सुनकर रामजी यादव ने दरवाजा खोला तो नक्सलियों ने रामजी यादव से नाम पूछा और कहा चलो नहीं तो पूरे परिवार का हत्या कर देगें.

इस दौरान रामजी यादव का बड़ा पुत्र कर्मवीर यादव भी आ पहुंच, जिसके बाद नक्सली पिता-पुत्र दोनों को अपने साथ ले गए. काफी दूर पैदल चलने के बाद नक्सलियों ने पिता रामजी यादव को छोड़ दिया लेकिन पुत्र कर्मवीर यादव को अपने साथ जंगल की ओर ले चले गए. घटना की सूचना मिलते ही पहाड़ी इलाकों में नक्सलियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है, हालांकि अब भी कर्मवीर यादव नक्सलियों के चंगुल में है.

घटना के बाद महुलिया गांव में दहशत का माहौल है. नक्सलियों के चंगुल से छूटकर आए रामजी यादव ने बताया कि घटना के कारणों का कुछ पता नहीं चल पाया है. काफी अनुरोध पर नक्सलियों ने उन्हे काफी दूर पैदल चलवाकर जंगल में ले जाकर रिहा किया है. इस घटना के बाद वो किसी भी अनहोनी से सहमे हैं और जल्द ही बेटे की रिहाई की मांग पुलिस पदधिकारी से करते है.

एसपी सुशील कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए अपहृत कर्मवीर यादव की रिहाई का दावा किया है. पुलिस अपहरण की इस घटना के बाद से नक्सल प्रभावित कजरा, पीरीबाजार, चानन के पहाड़ी इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही है तो दूसरी तरफ अगवा किए गए लोगों के घर में दहशत का माहौल है और पूरे परिवार के लोग लगातार किसी अनहोनी की घटना से सहमे हैं.

आपके शहर से (लखीसराय)

Tags: Anti naxal operation, Bihar News



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here