Noida : बिल्डर और अथॉरिटी के बीच लटकी घर की रजिस्ट्री, 14 साल से किराएदार की तरह रहने को मजबूर

0
53


रिपोर्ट: आदित्य कुमार, नोएडा

NOIDA नोएडा: सेक्टर-44 स्थित गार्डन ग्लोरी सोसाइटी में रहने वालों को घर लिए 14 साल हो गए. लेकिन आज भी अपने ही घर में किराएदार की ही तरह रहना पड़ रहा है. ऐसा इसलिए हैं क्योंकि यहां रहने वालों की अभी तक रजिस्ट्री ही नहीं हुई है. तो चलिए बताते हैं आपको कि आखिर क्यों रुकी हुई है रजिस्ट्री? और क्यों देना पड़ता है धरना?

दरअसल यहां रहने वाले लोगों के नाम सालों तक जब घर की रजिस्ट्री नहीं हुई तो निवासियों ने प्राधिकरण में एक आरटीआई लगाई. आरटीआई के जरिए लोगों ने प्राधिकरण से पूछा कि आखिर क्यों हम लोगों की रजिस्ट्री क्यों रोकी गई है, तो प्राधिकरण ने जवाब दिया कि, सोसाइटी के बिल्डर ने लोगों का पूरा पैसा प्राधिकरण को दिया ही नहीं. बिल्डर पर नोएडा प्राधिकरण का 591 करोड़ रुपए बकाया है.

कहां गए सोसायटी के 591 करोड़ ?
गार्डन ग्लोरी सोसाइटी के निवासी दुर्गेश सिंह बताते हैं कि, साल 2009 में हमने यहां घर बुक किया था. लेकिन इतने साल में भी ना तो ऑक्यूपेंसी सर्टिफिकेट बना है और ना ही कंप्लीशन सर्टिफिकेट. ऐसी स्थिति में घर की रजिस्ट्री नहीं हो पा रही है. दुर्गेश सिंह बताते हैं कि हम कामकाज वाले लोग है,दिन भर की थकान के बाद जब घर पहुंचते हैं तो हमें मूलभूत सुविधाओं के लिए भी या तो धरना देना पड़ता है या फिर बिल्डर और प्राधिकारण के यहां चक्कर काटने पड़ते हैं.हम कहते है कि जब हमने पूरा पैसा बिल्डर को दे दिया तो बिल्डर ने पैसा कहां रखा? कहीं ऐसा न हो कि बकाया पैसा हम बायर्स को ही देना पड़े.

छोटा सा भी हादसा हत्या करने वाला होगा
सोसाइटी में रहने वाले विशाल बताते हैं कि हमने पैसा दिया ताकि हम लोग सुरक्षित रहें, हमें हमारी जरूरी सुविधा मिले. लेकिन यहां पानी से लेकर बिजली तक के लिए लड़ना पड़ता है.कभी अगर धोखे से कहीं आग लग जाए तो. हजारों लोग इस सोसाइटी में रह रहे हैं सबकी जान खतरे में आ जाएगी है. क्योंकि यहां लगा फायर सिस्टम काम ही नहीं करता.

बिल्डर को कोई अता-पता नहीं
सेक्टर-44 स्थित गार्डन ग्लोरी सोसाइटी में रहने वालों के सवालों का जवाब ढूंढने के लिए NEWS 18 LOCAL की टीम बिल्डर से संपर्क करनी चाही. बिल्डर मनोज राय से इस विषय पर उनका पक्ष जानने के लिए फोन और मैसेज किया गया लेकिन उन्होने कोई उत्तर नहीं दिया.

Tags: Noida Authority, Noida news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here