Noida Twin Tower: जानिए किसने शुरू की थी भ्रष्टाचार की बिल्डिंग को गिराने की जंग? क्यों याद कर रहे लोग?

0
43


हाइलाइट्स

सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के निवासी इसके लिए दशक से भी ज्यादा लड़ाई लड़े
वीसी श्रीवास्तव इमारत को गिराने के लिए लंबी लड़ाई लड़ी.

रिपोर्ट: आदित्य कुमार

नोएडा. सुपरटेक ट्विन टावर (Supertech Twin Tower) के ध्वस्तीकरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. कुछ ही घंटों बाद सुपरटेक ट्विन टावर जमींदोज कर दिया जाएगा. विस्फोटक लगाने के साथ ही रूट को डायवर्ट कर दिया गया है. आस-पास के सोसाइटी वालों को भी दूसरी जगहों पर शिफ्ट कर दिया गया है. लेकिन सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के निवासी एक शख्स को बहुत याद कर रहे हैं.

दरअसल, सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के निवासी इसके लिए दशक से भी ज्यादा लड़ाई लड़े हैं. अब जब दिन नजदीक आ गया है तो एक खास व्यक्ति वीसी श्रीवास्तव को लोग याद कर रहे है. जिनकी कुछ महीने पहले ही मौत हो चुकी है.

कौन हैं वीसी श्रीवास्तव?
वीसी श्रीवास्तव सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के सचिव थे. जिन्होंने इस अवैध इमारत को गिराने के लिए लंबी लड़ाई लड़ी. लेकिन गिरते देख नहीं पाए. सोसाइटी की निवासी इंदु गुप्ता बताती हैं कि, वीसी श्रीवास्तव हमारे सोसाइटी के लिए लड़ते रहे. हम उन्हें धन्यवाद देते हैं और सच्चे दिल से श्रद्धांजलि देते हैं.

जानिए क्या था श्रीवास्तव जी का सपना?
वीसी श्रीवास्तव जी की पत्नी अन्नपूर्णा श्रीवास्तव बताती हैं कि, 75 साल की उम्र में भी वो सोसाइटी के लिए हमेशा एक्टिव रहते थे. उनका सपना था भ्रष्टाचार से बने इस इमारत को ढहते हुए देखना, लेकिन उनका ये सपना पूरा नहीं हो पाया. वीसी श्रीवास्तव की बेटी प्रीति चंद्रा बताती हैं कि, अंतिम समय जब उनको हर्ट अटैक हुआ तो वो आरडब्ल्यूए के ऑफिस में ही मीटिंग कर रहे थे. अंतिम वक्त तक सिर्फ इस बात को लेकर काम कर रहे थे कि, यह इमारत सुरक्षित गिराई जा सके.

Tags: Supertech Emerald Tower, Supertech twin tower, UP latest news



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here