Novak Djokovic detained as he awaits visa hearing in australia australian open 2022

0
11


मेलबर्न. कोरोना का टीका नहीं लगवाने के कारण वीजा दूसरी बार रद्द होने के बाद दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) फिर आव्रजन हिरासत में हैं. जोकोविच की वीजा रद्द होने के खिलाफ उनकी अपील पर सुनवाई उच्च न्यायालय में होगी. फेडरल कोर्ट में मामले की सुनवाई रविवार को होगी जबकि सोमवार से साल का पहला ग्रैंडस्लैम ऑस्ट्रेलियाई ओपन (Australian Open 2022) शुरू हो रहा है.

पुलिस ने उस इमारत के पीछे की लेन बंद कर दी है जहां नोवाक जोकोविच  के वकील ठहरे हैं. शनिवार को दोपहर के समय दो वाहन वहां से बाहर निकले. टीवी फुटेज में जोकोविच को पीछे की सीट पर मास्क पहने बैठे दिखाया जब वाहन आव्रजन हिरासत होटल के बाहर रूका. ऑस्ट्रेलियाई एसोसिएट प्रेस ने बताया कि जोकोविच फिर हिरासत में हैं. उन्होंने पहले भी चार रातें इसी होटल में बिताई थीं. आव्रजन मंत्री एलेक्स हॉके ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने मंत्री के तौर पर अपने विशेषाधिकार का प्रयोग करके सर्बिया के इस 34 वर्षीय खिलाड़ी का वीजा जनहित आधार पर रद्द कर दिया है.

हॉके ने कहा कि उन्होंने जनहित को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य कारणों से यह फैसला लिया है. उन्होंने एक बयान में कहा ,‘‘ मौरिसन सरकार ऑस्ट्रेलियाई सीमाओं की कोरोना महामारी के इस दौर में रक्षा करने को लेकर प्रतिबद्ध है.’’ जोकोविच का वीजा दूसरी बार रद्द हुआ है. पिछले सप्ताह मेलबर्न पहुंचते ही ऑस्ट्रेलिया सीमा बल द्वारा उनका वीजा रद्द कर दिया गया था क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के कड़े कोरोना टीकाकरण नियमों से मेडिकल छूट के लिये जरूरी मानदंडों पर वह खरे नहीं उतरते थे.

भारत की पहली महिला MMA विश्व चैंपियन बनना चाहती हैं रितु फोगाट, 2022 में पहला मुकाबला कोरियाई दिग्गज से

नोवाक जोकोविच ने चार रात पृथकवास होटल में बिताई जिसके बाद सोमवार को जज ने उनके पक्ष में फैसला दिया. इस बीच जोकोविच ने सोशल मीडिया पोस्ट में स्वीकार किया था कि उनके यात्रा विवरण फॉर्म में गलती थी लेकिन उन्हें इसे अपने एजेंट द्वारा अनजाने में की गई मानवीय गलती बताया.

मेलबर्न के आव्रजन वकील कियान बोन ने कहा कि जोकोविच के वकीलों के लिये अब इस फैसले को अदालत में बदलवा पाना काफी मुश्किल होगा. उन्होंने कहा, ‘‘जोकोविच के लिये अब ऑस्ट्रेलियाई ओपन में खेलने की अनुमति पाना बहुत मुश्किल होगा. अब उनके पास समय भी नहीं है.’’

India Open: कोरोना के कारण 2 और खिलाड़ी बाहर, श्रीकांत समेत 7 भारतीय पहले ही ले चुके है नाम वापिस

वकीलों को फेडरल सर्किट एंड फैमिली कोर्ट में एक ड्यूटी जज के पास या फेडरल कोर्ट में सीनियर जज के पास जाकर दो आपात आदेश लेने होंगे. पहला आदेश उनका निर्वासन रोकना और दूसरा हॉके को जोकोविच का वीजा बहाल करने का निर्देश देने का होगा. बोन ने कहा ,‘‘ दूसरा आदेश ऐसा है जो आज तक कभी नहीं हुआ. अदालत सरकार के किसी सदस्य को वीजा जारी करने का आदेश बहुत कम ही देती है.’’

Tags: Australia, Australian open, Novak Djokovic, Sports news, Tennis



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here